Kalyan Jewellers, Madinat Zayed Extension, Abu Dhabi

Shop No-11, 12, & 13, Ground Floor, Madinat Zayed Extension
Abu Dhabi- 43680

Kalyan Jewellers Shop No-11, 12, & 13, Ground Floor, Madinat Zayed Extension, Abu Dhabi - 43680.

(971)800-0320955

Call Now

Opens at

Articles

কিভাবে মিলেনিয়ালরা জুয়েলারি ব্যবহারের ট্রেণ্ডকে পালটে দিয়েছে?

On
বর্তমান প্রজন্মের মিলেনিয়ালরাই হ’ল পরিবারের মূখ্য উপার্জনকারী, যাদের বয়স 25 থেকে 40 বছরের মধ্যে। আর এরাই যে কোন অর্থনীতির স্তম্ভবিশেষ। ভারতের অধিকাংশ নাগরিকরা বয়সে তরুণ এবং এই মিলেনিয়ালরাই এখন সংখ্যাগরিষ্ঠ। মিলেনিয়াল-এর সংজ্ঞা স্থির করতে গেলে একত্রে অনেক কিছু লক্ষণকে বোঝায়। আজকের মিলেনিয়ালদের মানসিকতা ও সচেতনতা বহুবিধ বিষয় দ্বারা প্রভাবিত। এইসব নতুন উপার্জনকারীরা বিনিয়োগ বিষয়ক উদ্যোগে আগ্রহী। এই সব ক্ষেত্রে, যে কোন প্রজন্মের জন্য সোনাই হ’ল সব থেকে নিরাপদ আর আকাঙ্খিত বিকল্প। মিলেনিয়ালদের ফ্যাশন ও জুয়েলারি বিষয়ে রুচিবোধ পরিশীলিত, তাই সোনার অলঙ্কার কিনে তারা এক ঢিলে দুই পাখি মারতে পারে। সোনার গয়না তাদের স্টাইল, পছন্দ ও মানসিক প্রবণতার সাথে মানানসই। এখন যে সব জুয়েলারির চল রয়েছে তাদের মধ্যে রয়েছে বহু গ্রন্থি সহ চেন, মুক্তোর গয়না, হালকা হীরের গয়না, নিজের পছন্দসই রঙ মেশানো হীরে বসানো গয়না ইত্যাদি। সাধারণভাবে মিলেনিয়ালদের আরেকটা বৈশিষ্ট্য হ’ল তাদের সামান্য সাজগোজের স্টাইল। আজকের যুবসমাজে এই বিষয়টি খুব বেশি করে চোখে পড়ে। স্বাভাবিকভাবে তাদের গয়নাগাটির পছন্দের ক্ষেত্রেও সেই একই ব্যাপার। তারা অনেক রকম জুয়েলারি কিনতে আগ্রহী হয়েও সাজগোজের ক্ষেত্রে তারা সরল ও সংক্ষিপ্ত ধরণটাই পছন্দ করে। সাধারণ টাসেল ডায়মন্ড ইয়াররিং, হালকা ও ফ্যান্সি রোজ গোল্ডের গয়না, সামান্য একটু মুক্তোর স্টাড, মুক্তোর নেকলেস, ফ্যান্সি পেনড্যান্ট সহ হালকা কোন চেন ইত্যাদি যাদের মধ্যে সোনার গয়নায় মিনিম্যালিস্টিক ডিজাইন রয়েছে এইসবই এখন চলছে। অনাড়ম্বর ভাবে তাদের মিলিয়ে মিশিয়ে ব্যবহারের সময় যারা উচ্চকন্ঠে জানান দেয়, “সামান্য মানেই বেশি”। এখন জ্যামিতিক নকশা করা গয়নার চাহিদা বাড়ছে। সাধারণ কোন দিনে বা বিজনেস মিটিং-এ থাকার সময় আপনার গয়না স্টাড, ড্রপস, ডায়মন্ড ইয়াররিং, পেনড্যান্ট বা ব্রেসলেট যাই হোক না কেন, এখন জ্যামিতিক নকশা করা সেই সব ডিজাইনের দিকেই ঝোঁকটা বেশি যা যে কোন পোশাক অথবা চেহারার সাথেই মানানসই হতে পারে। এইসব মিনিম্যালিস্ট জুয়েলারির স্টাইলিংকে আরো আকর্ষণীয় করে তোলার জন্য একসাথে অনেকগুলি পরে থাকতে হয়। জিনস টি শার্ট কিংবা বিজনেস স্যুট, পরনে যাই থাকুক না কেন আপনি সবার মধ্যেই এই একই ধরণের সাজ দেখতে পাবেন। বেশ কয়েকটি পাতলা চেন শিল্পসম্মত দাবি মেনে এমন ভাবে গলায় পরে থাকা যায়, যাতে এক ঝটকায় তা সবার চোখে পড়ে। অথচ এই ধরণের সাজ একেবারেই জমকালো নয়। ব্রেসলেট ও বালার ক্ষেত্রেও ওই একই স্টাইল বজায় রাখা যেতে পারে। মিলেনিয়ালদের ভাবনা অনুযায়ী বিয়ের পাত্রীর সাজসজ্জার সব থেকে উজ্জ্বল দিকটি হ’ল গয়নার চিরকালীন প্রাসঙ্গিকতা। ভিনটেজ গয়না এক প্রজন্ম থেকে অন্য প্রজন্মে চলে আসে বলে তাতে অসম্ভব মায়া ও আবেগ জড়ানো থাকে। অপরূপ রঙের মিশেল দেওয়া হীরের গয়নায় যে কোন পাত্রীর ফ্যাশনের ধারণা ও ব্যক্তিত্ব ফুটে ওঠে, তা কানের দুল, ব্রেসলেট, বালা, আঙটি অথবা নেকলেস যাই হোক না কেন। ফ্যাশন সচেতনতা ও পছন্দের বিচারে প্রতিটি প্রজন্মেই বৈপ্লবিক ধ্যানধারণা যোগ হয়। তাদের পোশাক-আশাক আর অলঙ্কারে সেটারই সব থেকে বেশি প্রতিফলন ঘটে।
Publisher: Kalyan Jewellers

புதுயுக மனிதர்களின் விருப்பம் நகைகளின் நடைமுறைகளை மாற்றியது எவ்வாறு?

On
புதுயுக மனிதர்கள் இன்றைய தலைமுறையில் சம்பாதிப்பவர்களாக இருக்கிறார்கள். 25 முதல் 40 வயது வரையிலான இவர்கள் எந்த ஒரு பொருளாதாரத்துக்கும் தூண்களாகத் திகழ்கின்றனர். இளம் நாடான இந்தியாவில் இதுபோன்ற புதுயுக மனிதர்கள் கணிசமாகவே உள்ளனர். புதுயுகம் என்றால் என்ன என்பதை வரையறுக்கும் பல தன்மைகள் உள்ளன. இன்றைய புதுயுக மனிதர்களின் போக்கும், விழிப்புணர்வும் பல விஷயங்களினால் உருவாகின்றன. புதிய தலைமுறை சம்பாதிப்பவர்கள் என்ற முறையில், இவர்கள் பல வகைகளில் முதலீடு செய்ய விரும்புகின்றனர். அப்படிப்பட்ட வகைகளில் ஒன்றுதான் தங்கம். தங்கத்தில் முதலீடு செய்வது பாதுகாப்பானது என்பதால் எந்த ஒரு தலைமுறையினரும் இதை மிகவும் விரும்புகின்றனர். ஃபேஷன் மற்றும் நகைகளைப் பொறுத்தமட்டில், புதுயுக மனிதர்களுக்கு நல்ல ரசனை இருக்கிறது. எனவே, இவர்கள் ஒரே கல்லில் இரண்டு மாங்காய் என்பது போல, தங்களது நடைமுறை, விருப்பம் மற்றும் நடைமுறைக்கு ஏற்ற மாதிரி தங்க நகைகளை வாங்குகின்றனர். இப்போது பல கண்ணிகளைக் கொண்ட செயின்கள், முத்து நகைகள், லேசான வைர நகைகள், உங்களுக்குப் பிடித்தமான நிறங்களில் வைர நகைகள் என்று சில நகைகள் நடைமுறையாக இருக்கின்றன. ஸ்டைலிங்கை குறைவாக வைத்துக் கொள்வது என்பது புதுயுக மனிதர்களிடையே காணப்படும் மற்றுமொரு பொதுவான தன்மையாகும். குறைவாக ஸ்டைல் காட்டுவது என்பதை இன்றைய இளைஞர்கள் பலரும் தங்களது வாழ்க்கை முறையாக ஏற்றுக் கொண்டுள்ளனர். இவர்கள் பல நகைகளை வாங்கி வைக்க விரும்பினாலும், வடிவமைப்புகள் குறைவானதாக இருக்க வேண்டும் என்று விரும்புகின்றனர். தங்க நகைகளில் சின்னதாகத் தொங்கும் வைர காதணிகள், மெல்லிய மற்றும் ஃபேன்ஸியான ரோஸ் நிறத் தங்க நகை, எளிய முத்துத் தோடுகள், முத்து நெக்லேஸ்கள், ஃபேன்சி பதக்கம் தொங்கும் லைட்டான செயின்கள் ஆகியன இப்போதைய டிரெண்டாக இருக்கின்றன. இவை ‘’குறைவே நிறைவு’’ என்னும் மூலமந்திரத்தை எடுத்துக் காட்டுவது போல பூடகமான முறையில் பொருத்தமாகவும், பகட்டாகவும் கலந்து காணப்படுகின்றன. ஜியோமெட்ரிக் முறைகளில் தயாரிக்கப்பட்ட நகைகள் இந்தக் காலத்தில் மற்றுமொரு புதிய நவநாகரீகமாக உள்ளன. தோடுகள், தொங்கள்கள், வைரக் காதணிகள், பதக்கங்கள் அல்லது பிரேஸ்லெட்டுகள் ஜியோமெட்ரிக் வடிவமைப்பில்ல் இருக்க வேண்டும் என விரும்புகின்றனர். ஏனென்றால் இவை எந்த ஒரு ஆடை அலங்காரத்துக்கும் பொருத்தமாக உள்ளன. சாதாரணமாக இருப்பதற்கும், சபைக் கூட்டத்திற்கும் இவற்றை அணியலாம். இந்தக் குறைவான நகைகளில் காணப்படும் ஒரு சுவையான ஸ்டைல் என்னவென்றால் இவற்றை ஒன்றன்மீது ஒன்றாக அடுக்கலாம். ஜீன்ஸ் மற்றும் டி-சர்ட் அணிந்த பெண்களாகட்டும், மிடுக்கான வணிக சூட் அணிந்த பெண்களாகட்டும், ஒவ்வொருவரும் இத்தகைய தோற்றத்தையே விரும்புகின்றனர். மெல்லிய செயின்களை ஒன்றன்மீது ஒன்றாக அடுக்கி கழுத்தில் அணிந்தால், அவை எடுப்பாக பளிச்சிட்டு அனைவரின் கவனத்தையும் கவரும். அதே நேரத்தில் முகத்தில் அடிப்பது போல் இருப்பதில்லை. இதே ஸ்டைலை பிரேஸ்லெட்டுகள் மற்றும் வளையல்களிலும் பயன்படுத்தலாம். திருமண அலங்காரங்கள் என்று வரும்போது, புதுயுக மனிதர்கள் நீடித்து நிலைத்திருக்கும் நகைகளை விரும்புகின்றனர். தலைமுறை தலைமுறையாகக் கைமாறி வரும் பழங்கால நகைகள் அழகாக இருப்பதோடு, ஒரு வகையான பாரம்பரிய உணர்வையும் தருகின்றன. ஒரு மணப்பெண் அழகான வண்ணப்பூச்சு உடைய வைர நகைகளாக காதணிகள், பிரேஸ்லெட்டுகள், வளையல்கள், மோதிரங்கள் அல்லது நெக்லேஸ்களை அணியும்போது அவளுடைய ஃபேஷன் உணர்வும், ஆளுமையை எடுப்பாக வெளிப்படுகின்றன. ஒவ்வொரு தலைமுறைக்கும் அவற்றின் ஃபேஷன் மற்றும் விருப்பங்களைப் பொறுத்து ஒரு புரட்சியே நிகழ்கிறது. இந்தப் புரட்சி அவர்கள் அணியும் ஆடைகள் மற்றும் நகைகளின் மூலமாக மிகச்சிறப்பாக வெளிப்படுகிறது.
Publisher: Kalyan Jewellers

ਜਵੈਲਰੀ ਸਟਾਇਲਿੰਗ – ਤੁਹਾਡੇ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਨੂੰ ਨਿਖਾਰਨ ਦਾ ਇੱਕ ਜ਼ਰੀਆ

On
ਸਾਡਾ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਹੀ ਸਾਨੂੰ ਦੂਜਿਆ ਤੋਂ ਵੱਖ ਅਤੇ ਅਨੋਖਾ ਬਣਾਉਂਦਾ ਹੈ। ਸਾਡੇ ਸੋਚਣ, ਕੰਮ ਕਰਨ, ਬੋਲਣ ਅਤੇ ਖੁਦ ਨੂੰ ਪ੍ਰਸਤੁਤ ਕਰਨ ਵਿੱਚ ਹੀ ਸਾਡਾ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਦਿਖਾਈ ਦਿੰਦਾ ਹੈ। ਕਿਸੇ ਵੀ ਵਿਅਕਤੀ ਦੇ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਦਾ ਆਸਾਨੀ ਨਾਲ ਪਤਾ ਲਗਾਉਣਾ ਹੋਵੇ ਤਾਂ ਉਸਦੀ ਵੇਸ-ਭੂਸਾ ਅਤੇ ਮੇਲ ਖਾਂਦੀ ਉਚਿਤ ਜਵੈਲਰੀ ‘ਤੇ ਗੌਰ ਕਰੋ। ਉਸੇ ਵਿਅਕਤੀ ਦਾ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਪਹਿਨਾਵੇ ਦੇ ਆਧਾਰ ‘ਤੇ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਪਰਸਥਿਤੀਆਂ ਵਿੱਚ ਵੱਖ ਹੋ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਜਿਵੇਂ ਕਿ, ਸ਼ਾਦੀ ਲਈ ਪਹਿਨੇ ਜਾਣ ਵਾਲੇ ਕੱਪੜੇ ਬੇਸ਼ਕ ਕਿਸੇ ਵੀ ਛੁੱਟੀ ਜਾਂ ਬਿਜਨਿਸ ਮੀਟਿੰਗ ਦੇ ਲਈ ਪਹਿਨੇ ਜਾਣ ਵਾਲੇ ਕੱਪੜਿਆਂ ਨਾਲੋਂ ਵੱਖ ਹੁੰਦੇ ਹਨ। ਪਰ ਉਸ ਵਿਅਕਤੀ ਦਾ ਅੰਦਰੂਨੀ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਕਿਸੇ ਵੀ ਪ੍ਰਕਾਰ ਦੇ ਪਹਿਨਾਵੇ ਵਿੱਚ ਨਿਖਰ ਕੇ ਸਾਹਮਣੇ ਆ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਜਦ ਗੱਲ ਜਵੈਲਰੀ ਪਹਿਣਨ ਦੀ ਹੋਵੇ, ਤਾਂ ਕਿਸੇ ਵਿਅਕਤੀ ਨੂੰ ਉਸਦੇ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ, ਨਿੱਜੀ ਪਸੰਦ-ਨਾਪਸੰਦ ਅਤੇ ਮੌਜੂਦਾ ਰੁਝਾਨ ਦੇ ਆਧਾਰ ‘ਤੇ ਸਟਾਇਲ ਕਰਨਾ ਬਹੁਤ ਦਿਲਚਸਪ ਕੰਮ ਹੁੰਦਾ ਹੈ। ਇੱਕ ਮਿਲਨਸਾਰ ਵਿਅਕਤੀ ਜੋ ਕਿਸੇ ਨਾਲ ਵੀ ਆਸਾਨੀ ਨਾਲ ਘੁਲ ਮਿਲਣ ਜਾਵੇ ਅਤੇ ਦਿਲ ਖੋਲ੍ਹ ਕੇ ਹੱਸੇ ਉਸਦੇ ਉੱਪਰ ਕੰਨ ਦੀਆਂ ਲੰਬੀਆਂ ਵਾਲੀਆਂ ਜਾਂ ਖਨਖਨਾਉਂਦੇ ਝੁਮਕੇ ਸੁਭਾਵਿਕ ਲੱਗਣਗੇ। ਕਿਸੇ ਬਿਜਨਿਸ ਮੀਟਿੰਗ ਵਿੱਚ, ਸੰਪੂਰਨ ਬੋਰਡ ਰੂਮ ਨੂੰ ਆਪਣੇ ਵੱਲ ਆਕਰਸ਼ਿਤ ਕਰਨ ਲਈ ਜਿਸ ਆਤਮ-ਵਿਸ਼ਵਾਸ ਅਤੇ ਕਰਿਸ਼ਮੇ ਦੀ ਲੋੜ ਹੁੰਦੀ ਹੈ ਉਹ ਸੁੰਦਰ ਜਵੈਲਰੀ ਪਹਿਨ ਕੇ ਹੀ ਆ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਮੋਤੀ ਦੇ ਗੁਲਮੇਖ, ਸਧਾਰਨ ਪਰ ਆਕਰਸ਼ਕ ਸਾਦਾ ਬ੍ਰੈਸਲੇਟ, ਆੱਫਿਸ ਵਿੱਚ ਪਹਿਨੀ ਜਾਣ ਵਾਲੀ ਹਲਕੀ ਅਤੇ ਜਯਾਮਿਤੀ ਪੈਟਰਨ ਵਾਲੀ ਮੋਹਕ ਜਵੈਲਰੀ ਇਸ ਅਵਸਰ ‘ਤੇ ਪਹਿਨੇ ਜਾਣ ਵਾਲੇ ਕੁਝ ਵਿਕਲਪ ਹਨ। ਪਾਰੰਪਰਿਕ ਜਵੈਲਰੀ ਸਭ ਤੋਂ ਉੱਤਮ ਮੰਨੀ ਜਾਂਦੀ ਹੈ। ਤੁਸੀਂ ਸਧਾਰਨ ਪਰ ਪਰੰਪਰਿਕ ਜਵੈਲਰੀ ਦੇ ਨਾਲ ਪਾਰੰਪਰਿਕ ਵੇਸ਼-ਭੂਸ਼ਾ ਵੀ ਪਹਿਨ ਸਕਦੇ ਹਨ। ਅੱਜ ਦੇ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਨੂੰ ਬਹੁਤ ਸਾਰੀ ਪੁਰਾਣੀ ਪੀੜ੍ਹੀ ਦੀ ਸਧਾਰਨ ਸਟਾਇਲ ਵਾਲੀ ਬਿਹਤਰੀਨ ਅਤੇ ਟਿਕਾਊ ਜਵੈਲਰੀ ਇਕੱਠਾ ਕਰਨ ਦਾ ਸ਼ੌਕ ਹੈ। ਕਲਾ ਦਾ ਸ਼ੌਕ ਰੱਖਣ ਵਾਲੇ ਕਿਸੇ ਵੀ ਵਿਅਕਤੀ ਨੂੰ ਕਿਸੇ ਵੀ ਹੋਰ ਸਾਰੀਆਂ ਚੀਜ਼ਾਂ ਤੋਂ ਪ੍ਰੇਰਣਾ ਮਿਲ ਜਾਂਦੀ ਹੈ। ਅਸਮਾਨ ਦੇ ਰੰਗ ਤੋਂ ਲੈ ਕੇ ਆਧੁਨਿਕ ਕਲਾ ਦੇ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਰੰਗਾਂ ਤੱਕ, ਕਲਾਤਮਕ ਮਨ ਲਈ ਕੋਈ ਵੀ ਸਰੋਤ ਪ੍ਰੇਰਣਾਦਾਇਕ ਹੋ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਇਸਦਾ ਪ੍ਰਦਰਸ਼ਨ ਜਵੈਲਰੀ ਨੂੰ ਸਟਾਇਲ ਕਰਨ ਸਮੇਂ ਵੀ ਕੀਤਾ ਜਾ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਪਾਰੰਪਰਿਕ ਅਤੇ ਪੁਰਾਣੀ ਜਵੈਲਰੀ ਤੋਂ ਲੈ ਕੇ ਆਧੁਨਿਕ ਫੈਸ਼ਨੇਬਲ ਜਵੈਲਰੀ ਤੱਕ; ਵੱਡੇ ਪੇਂਡੈਂਟ ਤੋਂ ਲੈ ਕੇ ਆਕਰਸ਼ਕ ਜਵੈਲਰੀ ਅਤੇ ਜਵੈਲਰੀ ਅਤੇ ਸਾਦੀ ਅਤੇ ਹਲਕੇ ਵਜ਼ਨ ਵਾਲੀ ਰੋਜ਼ਾਨਾ ਪਹਿਨੇ ਜਾਣ ਵਾਲੀ ਜਵੈਲਰੀ ਤੱਕ; ਹੀਰੇ ਦੀ ਚਮਕਦਾਰ ਅਤੇ ਸੁੰਦਰ ਜਵੈਲਰੀ ਤੋਂ ਲੈ ਕੇ ਮੋਤੀਆਂ ਦੀ ਸਧਾਰਨ ਮਾਲਾ ਤੱਕ, ਕੋਈ ਵੀ ਕਲਾਤਮਕ ਵਿਅਕਤੀ ਇਹਨਾਂ ਵਿੱਚੋਂ ਕਿਸੇ ਵੀ ਜਵੈਲਰੀ ਨੂੰ ਆਕਰਸ਼ਕ ਬਣਾਉਣ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਵੀ ਆਪਣਾ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਉਜਾਗਰ ਕਰਦੇ ਹੋਏ ਉਸਨੂੰ ਖਾਸ ਬਣਾ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਚਾਹੇ ਵਿਆਹ ਹੋਵੇ ਜਾਂ ਪਾਰਟੀ, ਆਤਮ-ਵਿਸ਼ਵਾਸ ਨਾਲ ਭਰੀਆਂ ਔਰਤਾਂ ਹੀ ਸ਼ਾਨਦਾਰ ਜਵੈਲਰੀ ਪਹਿਨ ਕੇ ਕਿਸੇ ਦਾ ਵੀ ਧਿਆਨ ਆਪਣੇ ਵੱਲ ਆਕਰਸ਼ਿਤ ਕਰ ਸਕਦੀਆਂ ਹਨ। ਇਸਦੇ ਉਲਟ, ਕੋਈ ਸ਼ਰਮੀਲਾ ਵਿਅਕਤੀ ਸਭ ਤੋਂ ਸ਼ਾਨਦਾਰ ਪਰ ਹਲਕੀ-ਫੁਲਕੀ ਜਵੈਲਰੀ ਪਹਿਨ ਕੇ ਸਭ ਤੋਂ ਸੁੰਦਰ ਲੱਗਣ ਦੇ ਨਾਲ-ਨਾਲ ਅਸਧਾਰਨ ਵੀ ਲੱਗ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਹਰ ਤਰ੍ਹਾਂ ਦੇ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਨੂੰ ਜਵੈਲਰੀ ਨਾਲ ਸਟਾਇਲ ਕੀਤਾ ਜਾ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਜਿਸ ਪ੍ਰਕਾਰ ਹਰ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਅਨੋਖਾ ਹੁੰਦਾ ਹੈ, ਉਸੇ ਪ੍ਰਕਾਰ ਨਾਲ ਸਟਾਇਲ ਵੀ ਆਪਣੇ ਹਿਸਾਬ ਨਾਲ ਅਨੋਖਾ ਅਤੇ ਸੁੰਦਰ ਹੋ ਸਕਦਾ ਹੈ।
Publisher: Kalyan Jewellers

জুয়েলারি স্টাইলিং - যা আপনার ব্যক্তিত্বকে সবার সামনে তুলে ধরে

On
আমাদের ব্যক্তিত্বই আমাদের অনন্য পরিচিতি দেয় ও অন্যদের থেকে আলাদা করে তোলে। আমাদের কথাবার্তা, চিন্তাভাবনা আর কাজেই তা প্রকাশ পায়। পোশাক ও তার সাথে যথাযথ মানানসই অলঙ্কার বাছাইয়ের ধরণ থেকেই সব থেকে সহজে আর সঠিকভাবে কারো ব্যক্তিত্বকে নির্ণয় করা যায়। আবার রাজকীয় পোশাক পরিহিত হয়ে ভিন্ন পরিস্থিতিতে সেই মানুষটিরই ব্যক্তিত্বের প্রকাশ ভিন্ন হতে পারে। যেমন ধরুন, বিজনেস মিটিং বা ছুটি কাটানোর পোশাক আর বিয়ের উৎসবের পোশাক নিশ্চয়ই আলাদা হবে। আসলে যে কোন সাজই সঠিক ভাবে করতে পারলে একজন মানুষের অন্তর্নিহিত সত্তাটি সবার চোখের সামনে ঝলমল করে ওঠে। আবার, ব্যক্তিত্ব, নিজস্ব পছন্দ আর চলতি প্রবণতার ভিত্তিতে আনুষঙ্গিক সাজসজ্জা নির্বাচন করাটা খুবই চিত্তাকর্ষক হতে পারে। মিশুকে, কথাবার্তায় স্বচ্ছন্দ ও প্রাণখোলা হাসিতে অভ্যস্ত একজন নারীর স্বাভাবিক সজ্জায় একজোড়া টাসেল ইয়াররিং বা ঝুমকা অসম্ভব মানানসই হতে পারে যা মুগ্ধতা আর খুশির আবেশ ছড়ানো সেই গরবিণীর চলার ছন্দে রিনিঝিনি শব্দে মিশে যাবে। বিজনেস মিটিং-এ আপনার আত্মবিশ্বাসের দীপ্তি আর জৌলুস গোটা বোর্ডরুমের নজর আপনার দিকে টেনে নেয়। সুরুচিপূর্ণ কিছু অলঙ্কার সহযোগে তা আরেকটু শোভন হয়ে উঠতে পারে। এই সব পরিস্থিতিতে মুক্তো বসানো কানের দুল, অনাড়ম্বর অথচ নজর কাড়া পরিমিত রুচির ব্রেসলেট, অফিসে পরার জন্য চোখ ধাঁধানো জ্যামিতিক নকশার হালকা ধরণের গয়নার কথা উদাহরণ হিসাবে উল্লেখ করা যেতে পারে। ঐতিহ্যমন্ডিত যা কিছু, তার মান উৎকৃষ্ট হবেই। সাজসজ্জা আর পরম্পরার মেলবন্ধন হলে সামান্য হয়েও ঐতিহ্যের ছোঁয়ায় অসামান্য হয়ে ওঠা কিছু গয়না আপনাকে দারুণ মানাবে। আজকের মিলেনিয়ালরা সংক্ষিপ্ত ও সুচারু সাজের উপযোগী গয়নার জন্য চোখ রেখেছেন উত্তরাধিকার হিসাবে পাওয়া পরম্পরা ও ঐতিহ্য অনুসারী বহুবিধ গয়নার দিকে, যার মূল্য চিরকালই অপরিসীম। কোন মানুষের শিল্পীসত্তা যে কোন কিছু এবং সবকিছুর থেকেই অনুপ্রেরণা খুঁজে নেয়। আকাশের নীলিমা বা আধুনিক চিত্রকলার কোন রঙ, এই সবকিছুই একজন সৃজনশীল মানুষের অনুপ্রেরণা হতে পারে। তাঁদের অলঙ্কারের উপরেও এর প্রভাব পড়তে পারে। ঐতিহ্য খচিত অ্যান্টিক জুয়েলারি থেকে শুরু করে আধুনিক ফ্যান্সি জুয়েলারি; চাঙ্কি পেনড্যান্ড আর স্টেটমেন্ট পিস বা অনাড়ম্বর, হালকা গয়না; উজ্জ্বল, চোখধাঁধানো হীরের গয়না কিংবা এক ছড়া মুক্তোর হার, যাই হোক না কেন একজন শিল্পবোধ সম্পন্ন নারীর শরীরে এর যে কোন একটি আভূষণ উজ্জ্বল হয়ে উঠতে পারে এবং একই সাথে সবার দৃষ্টিতে নিজের অনন্য ব্যক্তিত্বের অভিজ্ঞানটিকে বজায় রাখতে পারেন। ওয়েডিং বা পার্টি যাই হোক স্টেটমেন্ট পিস পরিহিত আত্মবিশ্বাসে ভরপুর মহিলারা ঘরে ঢুকলেই এক ঝটকায় সবার নজর তার উপর পড়বেই। অপরদিকে, অন্তর্মুখী একজন নারী নিজের সাজসজ্জায় অপরূপ, মার্জিত ও শান্ত মায়া জড়ানো সৌন্দর্যকে প্রতিফলিত করতে পারেন। কখনো তা প্রচলিত ছকের গন্ডী পেরিয়ে নিছক কোন খেয়ালের বশেও হতে পারে। সোজা কথায় অলঙ্কারের স্টাইল নানা ধরণের ব্যক্তিত্ব অনুযায়ী যথাযথ হতে পারে। প্রতিটি মানুষের ব্যক্তিত্ব যেমন আলাদা তেমনি প্রতিটি স্টাইলিংও তার নিজের মতো করে অনন্য আর ‘বাহ-কি-সুন্দর’ হতে পারে।
Publisher: Kalyan Jewellers

જ્વેલરી સ્ટાઇલિંગ – તમારા વ્યક્તિત્વને રજૂ કરવા માટેનું સાધન

On
અન્ય લોકોથી આપણને જે જુદાં પાડે છે અને આપણને અનન્ય બનાવે છે તે આપણું વ્યક્તિત્વ છે. તે આપણે જે રીતે વિચારીએ છીએ, ક્રિયા કરીએ છીએ અને આપણી જાતને રજૂ કરીએ છીએ તેમાંથી બહાર આવે છે. વસ્ત્ર પરિધાનની પસંદગી કરવી અને તેની સાથે અનુકૂળ દાગીનાને મળતુ કરવું એ કોઈના વ્યક્તિત્વને માપવા માટેના સૌથી સરળ અને સૌથી મુખ્ય માર્ગોમાંથી એક છે. તે જ વ્યક્તિ તેમના નાગરિક પ્રતિષ્ઠાના ચિહ્નોને આધારે વિવિધ પરિસ્થિતિઓમાં વિવિધ સ્પંદનો આપી શકે છે. ઉદાહરણ તરીકે, વેકેશન અથવા વ્યવસાયિક બેઠક માટેનું વસ્ત્ર પરિધાન કરવું એ લગ્ન માટેના વસ્ત્ર પરિધાનથી ચોક્કસપણે અલગ હોવાનું. પરંતુ, જો યોગ્ય રીતે કરવામાં આવે, તો વ્યક્તિનું સહજ (જન્મજાત) વ્યક્તિત્વ બધા જ ગેટ-અપ્સમાં ચમકી શકે છે. જ્યારે કસરતની વાત આવે છે, ત્યારે કોઇપણ વ્યક્તિને તેમના વ્યક્તિત્વ, અંગત પસંદગીઓ અને હાલના વલણના આધારે શૈલીબદ્ધ કરવા ખૂબ જ રસપ્રદ હોય છે. જીવંત વ્યક્તિ, જે સરળતાથી વાતચીત શરૂ કરે છે અને હૃદયપૂર્વક હસે છે જ્યારે તે લટકતી કાનની બુટ્ટીઓ અથવા જુમકાઓ સાથે કુદરતી લાગે છે જે આનંદથી ચોતરફ ઝૂમતી નજરે પડે છે ત્યારે તમે તેની આસપાસ ખુશી અનુભવો છો. જ્યારે વ્યવસાયિક બેઠકમાં હો, ત્યારે સરસ દાગીનાનો ઉપયોગ કરીને તમારો છલકાતો આત્મવિશ્વાસ અને સમગ્ર બોર્ડ કક્ષના ધ્યાનને આકર્ષિત કરવાનો કરિશ્મા પ્રમુખતા ધરાવે છે. મોટીના સ્ટડ્સ, સાદાં છતાં ચિત્તાકર્ષક સૌમ્ય હાથના કંગન, નોંધપાત્ર ભૌમિતિક આકાર ધરાવતા કાર્યાલયમાં પહેરવાના દાગીના આ પ્રસંગને અનુરૂપ કેટલાક વિકલ્પો છે. પરંપરાગત છે તે ઉત્તમ હોય છે. સરળ છતાં પરંપરાગત ઝવેરાત સાથે મેળ ખાતા વંશીય રીતે વસ્ત્ર પરિધાન એ તમારી વસ્તુ છે. આજની સહસ્ત્રાબ્દી ઘણા બધા ટકાઉ ઝવેરાતોની માલિકી પસંદ કરે છે જે જૂની પેઢીથી ઉતરી આવેલી ન્યૂનતમવાદી ફેશનમાં શૈલીબદ્ધ કરવામાં આવી હોય. એક કલાત્મક વ્યક્તિ કોઇપણ વસ્તુમાંથી અને દરેક વસ્તુમાંથી પ્રેરણા શોધી લે છે. આકાશના રંગથી લઈને આધુનિક કલાની રંગછટા સુધી, રચનાત્મક દિમાગ માટે કંઈપણ પ્રેરણાનો સ્રોત હોય શકે છે. આ તેમના ઝવેરાતની શૈલીમાં પણ દેખાય છે. પરંપરાગત પ્રાચીન ઝવેરાતોથી આધુનિક રૂપના ઝવેરાતો સુધી; ચમકદાર પેન્ડેન્ટથી લઈને અને અભિવ્યક્તિના દાગિનાથી લઈને સાદા અને હળવા રોજ પહેરવાના ઝવેરાતો સુધી; ચમકતા અને મોટા હીરાના ઝવેરાતથી લઈને મોતીની સાદી સેર સુધી, કલાત્મક વ્યક્તિ આમાંથી કોઇપણ ઝવેરાતોને ચમકાવી શકે છે અને છતાં તેમના વ્યક્તિત્વમાં, તેમના વ્યક્તિગત સ્પર્શને દેખાવમાં લાવવા ચોક્કસ હોય છે. પછી તે લગ્ન અથવા જલસાના અભિવ્યક્તિના દાગીના હોય જે સૌથી આત્મવિશ્વાસુ મહિલા દ્વારા પહેરવામાં આવ્યાં હોય જે કોઇપણ ખંડમાં જાય છે ત્યાં બધાનું ધ્યાન આકર્ષિત કરી શકે છે. તેનાથી ઉલટું, અંતર્મુખ સૌથી વધુ ભવ્ય છતાં સૂક્ષ્મ રીતે પરિધાન કરશે જે શાંત સૌંદર્યને પ્રતિબિંબિત કરે છે, ક્યારેક તરંગી રૂપના રીતે પણ. વ્યક્તિત્વની સંખ્યા જેટલાં ઘણાં પ્રકારના શૈલીના ઝવેરાતો હોય છે. કેમ કે દરેક વ્યક્તિત્વ અનન્ય હોય છે, દરેક રૂપ પણ અનન્ય હોય છે અને તેની પોતાની રીતે ઓહ-ખૂબ-સુંદર હોય છે.
Publisher: Kalyan Jewellers

జ్యూయలరీ స్టైలింగ్ - మీ వ్యక్తిత్వాన్ని తెలియచేయడానికి ఒక సాధనం.

On
ఇతరులు నుండి మనల్ని భిన్నంగా ఉంచి, మనల్ని విలక్షణంగా ఉంచేది మన వ్యక్తిత్వం. ఇది మనం ఆలోచించి, మాట్లాడి మరియు మనల్ని గురించి తెలియచేసే విధానంలో వస్తుంది. దుస్తులు ఎంచుకోవడం, వాటికి సరిపోలే జ్యూయలరీని జోడించడం ఎవరిదైనా వ్యక్తిత్వాన్ని అత్యంత ప్రముఖంగా మరియు సులభంగా నిర్థారించే విధానాల్లో ఒకటి. అదే వ్యక్తి తమ అలంకరణ ఆధారంగా వివిధ పరిస్థితుల్లో వివిధ భావాల్ని ఇస్తారు. ఉదాహరణకు, ఒక వివాహానికి దుస్తులు ధరించడం ఒక వ్యాపార సమావేశానికి లేదా వెకేషన్ కోసం ధరించడం తప్పనిసరిగా వేరుగా ఉంటుంది. కానీ సరిగ్గా ధరించి ఉంటే ఒక వ్యక్తి యొక్క సహజమైన వ్యక్తిత్వం సక్రమంగా ప్రతిఫలిస్తుంది. యాక్ససరీంగ్ విషయంలో, తమ వ్యక్తిత్వం, వ్యక్తిగత ప్రాధాన్యత మరియు ప్రస్తుతమున్న ట్ర్ండ్ ఆధారంగా ఎవరైనా స్టైల్ చేసుకోవడం ఎంతో ఆసక్తికరంగా ఉంటుంది. సులభంగా సంభాషణలు చేస్తూ, హృదయపూర్వకంగా నవ్వే బహిర్ముఖ వ్యక్తిగత్వం గల వ్యక్తి సహజమైన భావనని కలిగి ఉండి మీరు చుట్టూ ఆనందంగా సంచరిస్తున్నప్పుడు సంతోషంగా ఊగుతుండే వ్రేలాడే ఇయర్ రింగ్స్ లేదా ఝుంకాస్ ధరిస్తారు. ఒక వ్యాపార సమావేశంలో, పూర్తి బోర్డ్ రూంలో అందరి దృష్టినీ మీ పై కేంద్రీకరించడానికి మీ ఎనలేని ఆత్మవిశ్వాసం మరియు ఆకర్షణలు గొప్ప జ్యూయలరీ ధరించడం వలన పెరుగుతాయి. ముత్యాల దుద్దులు, సాధారణంగా కనిపించినా ఆకట్టుకునే ప్రశాంతమైన బ్రాస్ లెట్స్ , ఆకట్టుకునే జియోమెట్రిక్ నమూనాలతో నిరాడంబరమైన ఆఫీస జ్యూయలరీ నమూనాలు ఈ సందర్భానికి సరిపోయే కొన్ని ఎంపికలు. సంప్రదాయబద్ధమైనది గొప్పది. నిరాడంబరమైన మరియు సంప్రదాయబద్ధమైన జ్యూయలరీతో ఎథ్నిక్ గా అలంకరణ చేసుకోవడం అనేది మీ ఆసక్తికి సంబంధించినది. అతి తక్కువ ఫ్యాషన్ లో పాత తరానికి చెందిన వారు వారసత్వంగా సంక్రమింపచేసిన సుస్థిరమైన వింటేజ్ జ్యూయలరీని సొంతం చేసుకోవడం నేటి మిల్లీనియల్స్ కి ఎంతో ఇష్టం. ఒక కళాత్మక వ్యక్తి ప్రతీ దానిలో మరియు అన్నింటిలో ప్రేరణ పొందుతాడు. రంగుల ఆకాశం నుండి ఆధునిక కళ రంగులు వరకు ఒక సృజనాత్మకమైన మనస్సుకి ప్రతీది ప్రేరణకు ఒక ఆధారంగా నిలుస్తుంది. ఇది వారి జ్యూయలరీ స్టైలింగ్ లో కూడా కనిపిస్తుంది. సంప్రదాయబద్ధమైన యాంటిక్ జ్యూయలరీ నుండి ఆధునిక ఫ్యాన్సీ జ్యూయలరీ ; భారీ పెండెంట్స్ నుండి స్టేట్మెంట్ పీసెస్ వరకు, సరళమైన మరియు రోజూ ధరించే జ్యూయలరీ; ప్రకాశవంతంగా మరియు భారీగా కనిపించే డైమండ్ జ్యూయలరీ నుండి సాధారణమైన ముత్యాలు వరకు, ఒక కళాత్మక హృదయం గల వ్యక్తి ఈ జ్యూయలరీస్ లో ఏవైనా మెరిసేలా చేయగలరు మరియు తమ రూపానికి తమ వ్యక్తిత్వాన్ని, వ్యక్తిగత ఆకర్షణని తప్పనిసరిగా తీసుకురాగలరు. వివాహం కావచ్చు లేదా పార్టీ కావచ్చు అత్యంత ఆత్మవిశ్వాసం గల మహిళ ధరించిన స్టేట్మెంట్ పీసెస్ తాము ప్రవేశించిన చోట అందరి దృష్టినీ ఆకట్టుకోగలరు. ఇందుకు వ్యతిరేకంగా, ఒక అంతర్ముఖి ప్రశాంతమైన అందాన్ని అత్యంత సొగసుగా సున్నితమైన విధానంలో , కొన్నిసార్లు విచిత్రమైన విధానంలో ప్రతిఫలింపచేసే విధానంలో అలంకరించుకుంటారు. ఎన్నో వ్యక్తిత్వాలు వలే ఎన్నోరకాల స్టైలింగ్ జ్యూయలరీస్ ఉన్నాయి, ప్రతీ వ్యక్తిత్వం విలక్షణమైనట్లుగానే, ప్రతీ స్టైలింగ్ కూడా విలక్షణమైనది, తనదైన విధానంలో అందమైనది.
Publisher: Kalyan Jewellers

ज्वेलरी स्टाइलिंग – आपके व्यक्तित्व को निखारने का एक जरिया

On
हमारा व्यक्तित्व ही हमें दूसरों से अलग और अनूठा बनाता है। हमारे सोचने, काम करने, बोलने और खुद को प्रस्तुत करने में ही हमारा व्यक्तित्व दिखाई देता है। किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व का आसानी से पता लगाना हो तो उसकी वेषभूषा और मेल खाती उचित ज्वेलरी पर गौर करें। उसी व्यक्ति का व्यक्तित्व पहनावे के आधार पर अलग-अलग परिस्थितियों में अलग हो सकता है। जैसे कि, शादी के लिए पहने जाने वाले कपड़े बेशक किसी छुट्टी या बिज़नेस मीटिंग के लिए पहने जाने वाले कपड़ों से अलग होते हैं। लेकिन उस व्यक्ति का अंदरूनी व्यक्तित्व किसी भी प्रकार के पहनावे में निखर कर सामने आ सकता है। जब बात ज्वेलरी पहनने की हो, तो किसी व्यक्ति को उसके व्यक्तित्व, निजी पसंद-नापसंद और मौजूदा रुझान के आधार पर स्टाइल करना बहुत दिलचस्प काम होता है। एक मिलनसार व्यक्ति जो किसी से भी आसानी से घुल मिल जाए और दिल खोल कर हँसे उसके ऊपर कान की लंबी बालियाँ या खनखनाते झुमके स्वाभाविक लगेंगे। किसी बिज़नेस मीटिंग में, संपूर्ण बोर्ड रूम को अपनी ओर आकर्षित करने के लिए जिस आत्म-विश्वास और करिश्मे की ज़रूरत होती है वो सुंदर ज्वेलरी पहन कर ही आ सकता है। मोती के गुलमेख, साधारण लेकिन आकर्षक सादा ब्रेसलेट, ऑफिस में पहनी जाने वाली हल्की और ज्यामितीय पैटर्न वाली मोहक ज्वेलरी इस अवसर पर पहने जाने वाले कुछ विकल्प हैं। पारंपरिक ज्वेलरी सबसे उत्कृष्ट मानी जाती है। आप साधारण लेकिन पारंपरिक ज्वेलरी के साथ पारंपरिक वेषभूषा भी पहन सकते हैं। आज के युवाओं को बहुत सारी पुरानी पीढ़ी की साधारण स्टाइल वाली बेहतरीन और टिकाऊ ज्वेलरी इकट्ठा करने का शौक है। कला का शौक रखने वाले किसी भी व्यक्ति को किसी भी और सभी चीज़ों से प्रेरणा मिल जाती है। आसमान के रंग से लेकर आधुनिक कला के विविध रंगों तक, कलात्मक मन के लिए कोई भी स्रोत प्रेरणादायक हो सकता है। इसका प्रदर्शन ज्वेलरी को स्टाइल करते समय भी किया जा सकता है। पारंपरिक और पुरानी ज्वेलरी से लेकर आधुनिक फ़ैशनेबल ज्वेलरी तक; बड़े पेंडेंट से लेकर आकर्षक ज्वेलरी तथा सादी और हल्के वज़न वाली रोज़ाना पहने जाने वाली ज्वेलरी तक; हीरे की चमकदार और भव्य ज्वेलरी से लेकर मोतियों की साधारण माला तक, कोई भी कलात्मक व्यक्ति इनमें से किसी भी ज्वेलरी को आकर्षक बनाने के बाद भी अपना व्यक्तित्व उजागर करते हुए उसे खास बना सकता है। चाहे शादी हो या पार्टी, आत्म-विश्वास से भरी महिलाएं ही शानदार ज्वेलरी पहन कर किसी का भी ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर सकती हैं। इसके विपरीत, कोई शर्मीला व्यक्ति सबसे शानदार लेकिन हल्की-फुल्की ज्वेलरी पहन कर सबसे सुंदर लगने के साथ-साथ असाधारण भी लग सकता है। हर तरह के व्यक्तित्व को ज्वेलरी से स्टाइल किया जा सकता है। जिस प्रकार से हर व्यक्तित्व अनूठा होता है, उसी प्रकार से स्टाइल भी अपने हिसाब से अनूठा और सुंदर हो सकता है।
Publisher: Kalyan Jewellers

સહસ્ત્રાબ્દિ પસંદગીઓ કેવી રીતે ઝવેરાતના વલણને ફરીથી સુયોજિત કરે છે

On
સહસ્ત્રાબ્દિઓ વર્તમાન પેઢીના નવા રોજી-રોટી કમાનારા છે. 25-40 વર્ષની ઉત્તમ વય જૂથમાં ફેલાયેલા, તેઓ કોઇપણ અર્થવ્યવસ્થાના સ્તંભો છે. ભારત હજારો વર્ષની વસતી ધરાવતું એક યુવા રાષ્ટ્ર છે. એવી ઘણીય ગુણવત્તાઓ છે જે સહસ્રાબ્દિની વ્યાખ્યા કરે છે. આજની સહસ્ત્રાબ્દિના વલણો અને જાગૃતિઓ વિવિધ વસ્તુઓ દ્વારા પ્રભાવિત છે. નવા રોજી કમાનારા હોવાથી, તેઓ રોકાણમાં સાહસ કરવાનું પસંદ કરે છે. આવા કિસ્સામાં, સોનું એ કોઇપણ પેઢી માટે સૌથી સલામત અને સૌથી વધુ માંગમાં રહેલો વિકલ્પ છે. સહસ્ત્રાબ્દિઓ બનાવટ અને ઝવેરાતોમાં ઉત્તમ પસંદગીઓ ધરાવે છે, જેથી તેઓ સોનાની ખરીદી કરીને એક કાંકરે બે પક્ષીઓને મારી શકે છે જે તેમની શૈલી, પસંદગીઓ અને વલણની સાથે મેળ ખાય છે. કેટલાક ઝવેરાતો જે હવે વલણમાં છે તે ઘણી કડીઓ સાથે કડીબદ્ધ છે, મોતીના ઝવેરાત, હળવા હીરાના ઝવેરાત, હીરાના ઝવેરાત તમારા મનપસંદ રંગો સાથે જડેલા છે અને એ રીતે આગળ. સહસ્ત્રાબ્દિમાં અન્ય એક સામાન્ય ગુણવત્તા એ ન્યૂનતમવાદી શૈલી છે. આજે આ ઘણા યુવાઓની જીવનશૈલીમાં સ્વીકારવામાં આવ્યું છે. સ્વાભાવિક રીતે જ સમાન પસંદગી ઝવેરાતોના શૈલી વખતે પણ આવવાની જ. તેઓ ઝવેરાતના ઘણા દાગીનાઓની માલિકી હોવાનું પસંદ કરે છે, પરંતુ કસરત વખતે, તેઓ ન્યૂનતમવાદી અભિગમને પ્રાથમિકતા આપે છે. સોનાના આભૂષણો પર સાદા ફૂમતાવાળી હીરાની બુટ્ટીઓ, હળવા અને લાલ સોનાના આભૂષણો, સાદા મોતીના બૂંદાઓ, મોતીના હાર, નક્શી લૉકેટ ધરાવતી હળવી ચેઇન, વગેરે જેવી ન્યૂનતમવાદી નકશી હવે વલણમાં છે. તેને ગૂઢ રીતે મિશ્રિત અને મેળબંધ કરવામાં આવે છે જે “ઓછું તે વધુ”નું સ્પષ્ટ રીતે નિરૂપણ કરે છે. ભૌમિતિક આકાર ધરાવતા ઝવેરાતો આજકાલ એક નવા મનપસંદ છે. તે બુટ્ટી, બૂંદા, હીરાની બુટ્ટીઓ, લૉકેટ અથવા કંગનોમાં હોય, ભૌમિતિક નકશી એ વધુ માંગમાં રહેલી નકશી છે કેમ કે તે કોઇપણ પરિધાન અને કોઇપણ દેખાવની સાથે મેળ ખાય છે પછી તે ઔપચારિક બહાર જવું હોય કે ધંધાકીય બેઠક હોય. આ ન્યૂનતમવાદી ઝવેરાતોના શૈલીની રસપ્રદ રીત તેમને એકની ઉપર એક ગોઠવવાની છે. પેન્ટ અને ટી-શર્ટ પહેરેલી મહિલાથી ચપળ વ્યબસાધંધા પહેરવેશમાં રહેલી મહિલાઓ સુધી, તમે દરેક વ્યક્તિને આ દેખાવમાં જોઈ શકો છો. પાતળી ચેઈનો ગળા પર એટલી કલાત્મક રીતે ગોઠવવામાં આવી હોય છે કે તે ઉમદા ન હોવા છતાં એક નજરમાં કોઇપણનું ધ્યાન આકર્ષિત કરી શકે છે. જ્યારે લગ્ન સમારંભની વાત આવે છે ત્યારે સહસ્ત્રાબ્દી ગુણવત્તા જે સૌથી વધુ ચમકતી હોય તે ટકાઉપણું છે. પેઢી દર પેઢી આપવામાં આવી હોવાથી, ઉંચી જાતના આભૂષણો તેની સાથે જોડાયેલી લાગણીઓની સુંદર માત્રાઓ ધરાવે છે. કોઇપણ નવવધૂની રૂપની સમજ અને વ્યક્તિત્વ મુક્તપણે નીખરી આવે છે જ્યારે તેણી સુંદર રંગના હીરાના દાગીના પહેરે છે પછી તે કાનની વાળીઓ, હાથના કંગનો, બંગડીઓ, વીંટીઓ અથવા ગળાના સ્પાર્ધારીત. રૂપની સમજ અને પસંદગીમાં દરેક પેઢી ક્રાંતિ ધરાવે છે. તે તેમનાં પરિધાનો અને તેઓ પહેરે છે તે આભૂષણોમાં શ્રેષ્ઠ રીતે દેખાય આવે છે.
Publisher: Kalyan Jewellers

ଯୁବପିଢ଼ିର ପସନ୍ଦ କିପରି ଅଳଙ୍କାର ଧାରାକୁ ରିସେଟ୍ କରିଛି

On
ମିଲେନିଆଲ୍ ବା ଯୁବପିଢ଼ି ହେଉଛନ୍ତି ବର୍ତ୍ତମାନର ପିଢ଼ିର ନୂତନ ଅନ୍ନଦାତା। 25 ରୁ 40 ବର୍ଷ ମଧ୍ୟରେ ପ୍ରଧାନ ବୟସ ବର୍ଗରେ ସେମାନେ ବିସ୍ତୃତ ଏବଂ ସେମାନେ ଯେକୌଣସି ଅର୍ଥନୀତିର ପ୍ରମୁଖ ସ୍ତମ୍ଭ। କୋଟି କୋଟି ଯୁବ ବର୍ଗର ଜନସଂଖ୍ୟା ବିଶିଷ୍ଟ ଭାରତକୁ ଯୁବ ରାଷ୍ଟ୍ର କହିଲେ ଅତ୍ୟୁକ୍ତି ହେବ ନାହିଁ। ଅନେକଗୁଡ଼ିଏ ଗୁଣ ରହିଛି ଯାହା ଯୁବ ବର୍ଗକୁ ବ୍ୟାଖ୍ୟା କରେ। ସେମାନଙ୍କ ଦୃଷ୍ଟିକୋଣ ଏବଂ ସଚେତନତା ବିଭିନ୍ନ ଜିନିଷ ଦ୍ୱାରା ପ୍ରଭାବିତ ହୋଇଥାଏ। ନୂଆ କରି ଉପାର୍ଜନକ୍ଷମ ହୋଇଥିବାରୁ ସେମାନେ ବିଭିନ୍ନ କ୍ଷେତ୍ରରେ ବିନିଯୋଗ କରିବାକୁ ପସନ୍ଦ କରନ୍ତି। ଏପରି ପରିସ୍ଥିତିରେ, ସୁନା ଯେକୌଣସି ପିଢ଼ି ପାଇଁ ସବୁଠାରୁ ସୁରକ୍ଷିତ ଏବଂ ଅନେକ ଲୋକ ଚାହୁଁଥିବା ବିକଳ୍ପ ମଧ୍ୟରୁ ଗୋଟିଏ। ଫ୍ୟାଶ ନ୍ଏବଂ ଅଳଙ୍କାର କ୍ଷେତ୍ରରେ ମଧ୍ୟ ଯୁବପିଢ଼ିଙ୍କର ପସନ୍ଦ ଖୁବ୍ ଭଲ। ତେଣୁ ସେମାନେ ନିଜସ୍ୱ ଶୈଳୀ, ପସନ୍ଦ ଏବଂ ଧାରା ଅନୁଯାୟୀ ସୁନା ଅଳଙ୍କାର କିଣି ଗୋଟିଏ ତୀରରେ ଦୁଇଟି ଶିକାର କରିପାରିବେ। ବର୍ତ୍ତମାନ ଟ୍ରେଣ୍ଡରେ ଥିବା କିଛି ଅଳଙ୍କାର ଅନେକ ଲିଙ୍କ୍ ଏବଂ ଶୃଙ୍ଖଳା ସହ ଜଡ଼ିତ ଯେମିତିକି ମୋତି ଅଳଙ୍କାର, ହାଲ୍ କା ହୀରା ଅଳଙ୍କାର, ଆପଣଙ୍କ ପ୍ରିୟ ରଙ୍ଗରେ ରଙ୍ଗୀନ କରିଯାଇଥିବା ହୀରା ଅଳଙ୍କାର ଇତ୍ୟାଦି। ଯୁବପିଢ଼ିର ଆଉ ଏକ ସାଧାରଣ ଗୁଣ ହେଉଛି ଖୁବ୍ କମ୍ ଷ୍ଟାଇଲିଂ। ଆଜି ଯୁବବର୍ଗର ଜୀବନଶୈଳୀରେ ଏହା ଗ୍ରହଣୀୟ ହୋଇପାରିଛି। ସ୍ୱାଭାବିକ ଭାବରେ ଅଳଙ୍କାର ଷ୍ଟାଇଲ୍ କରିବା ସମୟରେ ମଧ୍ୟ ଏହାକୁ ପ୍ରାଥମିକତା ଦିଆଯାଇଥାଏ। ଯଦିଓ ସେମାନେ ବହୁ ପରିମାଣର ଅଳଙ୍କାର କିଣିବାକୁ ପସନ୍ଦ କରନ୍ତି କିନ୍ତୁ ଆକ୍ସେସୋରାଇଜିଂ କରିବାବେଳେ, ସେମାନେ ଖୁବ୍ କମ୍ ଷ୍ଟାଇଲିଂ ପସନ୍ଦ କରନ୍ତି। ସାଧାରଣ ଟାସେଲ୍ ହୀରା କାନଫୁଲ, ହାଲ୍ କା ଏବଂ ଫ୍ୟାନ୍ସି ରୋଜ୍ ଷ୍ଟାଇଲ୍ ର ସୁନା ଅଳଙ୍କାର, ସାଧାରଣ ମୋତି ଷ୍ଟୁଡ୍, ମୋତି ହାର, ଫ୍ୟାନ୍ସି ପେଣ୍ଡାଣ୍ଟ ସହିତ ହାଲ୍ କା ଚେନ୍ ଇତ୍ୟାଦି ସୁନା ଅଳଙ୍କାର ଉପରେ ଖୁବ୍ କମ୍ ଡିଜାଇନ୍ ବର୍ତ୍ତମାନ ଟ୍ରେଣ୍ଡରେ ଅଛି। ସେଗୁଡ଼ିକ ଅତି ସୂକ୍ଷ୍ମ ଢଙ୍ଗରେ ମିଶ୍ରଣ ଏବଂ ମେଳ କରାଯାଇଥାଏ ଯାହା “କମ୍ ହିଁ ଅଧିକ” ମନ୍ତ୍ରକୁ ବ୍ୟାଖ୍ୟା କରିଥାଏ। ଆଜିକାଲି ସମସ୍ତଙ୍କର ନୂଆ ପସନ୍ଦ ହେଉଛି ଜ୍ୟାମିତିକ ଆକାର ଥିବା ଅଳଙ୍କାର । ଷ୍ଟୁଡ୍ ହେଉ, ଡ୍ରପ୍ ହେଉ, ହୀରା କାନଫୁଲ, ପେଣ୍ଡାଣ୍ଟ କିମ୍ବା ବ୍ରେସଲେଟ୍, ଜ୍ୟାମିତିକ ଡିଜାଇନ୍ ସମସ୍ତେ ଖୋଜୁଛନ୍ତି। କାରଣ ଏହା କାଜୁଆଲ୍ ହେଉ କି ବିଜିନେସ୍ ମିଟିଂ ଯେକୌଣସି ପୋଷାକ ଏବଂ ବେଶଭୂଷା ସହ ପିନ୍ଧିଲେ ବି ମାନିଥାଏ। ଏହି ମିନିମାଲିଷ୍ଟ ଅଳଙ୍କାରଗୁଡ଼ିକୁ ଷ୍ଟାଇଲିଂ କରିବାର ଗୋଟିଏ ମଜାଦାର ଉପାୟ ହେଉଛି ସେଗୁଡିକୁ ଷ୍ଟାକ୍ ବା ଥାକ କରିବା। ଜିନ୍ସ ଏବଂ ଟି-ସାର୍ଟ ପିନ୍ଧିଥିବା ମହିଳାଙ୍କ ଠାରୁ ଆରମ୍ଭ କରି ସୁନ୍ଦର ବିଜିନେସ୍ ସୁଟରେ ଥିବା ମହିଳାଙ୍କ ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ, ଆପଣ ସମସ୍ତଙ୍କୁ ଏହି ଲୁକ୍ ରେ ଦେଖିବାକୁ ପାଇପାରିବେ। ପତଳା ଚେନ୍ ଗୁଡ଼ିକୁ ଏଭଳି କଳାତ୍ମକ ଢଙ୍ଗରେ ସଜାଯାଇଛି ଯେ ଏହା ଅତିରଞ୍ଜିତ ଲାଗୁ ନାହିଁ କିନ୍ତୁ ଆଖି ପଡ଼ିବା ମାତ୍ରେ ଯେକୌଣସି ବ୍ୟକ୍ତିଙ୍କର ଦୃଷ୍ଟି ଆକର୍ଷଣ କରିପାରିବ। ଏହି ସମାନ ଶୈଳୀକୁ ବ୍ରେସଲେଟ୍ ଏବଂ ଚୂଡ଼ି କ୍ଷେତ୍ରରେ ମଧ୍ୟ ଅନୁକରଣ କରାଯାଇପାରେ। ଯେତେବେଳେ ବ୍ରାଇଡାଲ୍ ଟ୍ରାଉସୌ କଥା ଆସେ, ଯୁବପିଢ଼ିଙ୍କୁ ଯାହା ଅଧିକ ଆକର୍ଷିତ କରେ ତାହା ହେଉଛି ସ୍ଥାୟୀତ୍ୱ। ଏହା ଗୋଟିଏ ପିଢ଼ି ଆଉ ଗୋଟିଏ ପିଢ଼ିକୁ ହସ୍ତାନ୍ତର କରୁଥିବାରୁ ପାରମ୍ପରିକ ପ୍ରାଚୀନ ଶୈଳୀର ଅଳଙ୍କାରରେ ଭାବର ଆବେଗ ଭରି ରହିଥାଏ। ଗୋଟିଏ କନ୍ୟା ଯେତେବେଳେ କାନଫୁଲ, ବ୍ରେସଲେଟ୍, ଚୂଡ଼ି, ମୁଦି କିମ୍ବା ହାର ରୂପରେ ଏକ ସୁନ୍ଦର ରଙ୍ଗୀନ୍ ହୀରାର ଅଳଙ୍କାର ପିନ୍ଧେ, ତାର ଫ୍ୟାଶନ୍ ସେନ୍ସ ଏବଂ ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ ଅଧିକ ସ୍ପଷ୍ଟ ରୂପରେ ପରିପ୍ରକାଶ ହୋଇଥାଏ। ପ୍ରତ୍ୟେକ ପିଢ଼ିର ଫ୍ୟାଶନ୍ ଏବଂ ପସନ୍ଦରେ ଏକ ବିପ୍ଳବ ରହିଛି। ସେମାନେ ପିନ୍ଧୁଥିବା ପୋଷାକ ଏବଂ ଅଳଙ୍କାରରେ ଏହା ସବୁଠାରୁ ଭଲ ଭାବରେ ପ୍ରଦର୍ଶିତ ହୋଇଥାଏ।
Publisher: Kalyan Jewellers

ଜ୍ୱେଲରୀ ଷ୍ଟାଇଲିଂ - ଆପଣଙ୍କ ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱର ପରିପ୍ରକାଶ ପାଇଁ ଏକ ଉପକରଣ

On
ଯାହା ଆମକୁ ଅନ୍ୟମାନଙ୍କଠାରୁ ଭିନ୍ନ ଏବଂ ସ୍ୱତନ୍ତ୍ର କରିଥାଏ ତାହା ହେଉଛି ଆମର ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ। ଆମେ ଯେଉଁଭଳି ଭାବରେ ଭାବୁ, କାମ କରୁ, କଥା କହୁ ଏବଂ ନିଜକୁ ଉପସ୍ଥାପନ କରୁ, ସେସବୁ ମାଧ୍ୟମରେ ଆମର ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱର ପରିପ୍ରକାଶ ହୋଇଥାଏ। ସୁନ୍ଦର ପୋଷାକ ଏବଂ ତା ସାଙ୍ଗକୁ ଉପଯୁକ୍ତ ଅଳଙ୍କାର ଚୟନ କରିବାର କୌଶଳରୁ କାହାରି ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ ଆକଳନ କରିବା ଏକ ଅତି ସହଜ ଏବଂ ପ୍ରମୁଖ ଉପାୟ। ଜଣେ ବ୍ୟକ୍ତି ହୁଏତ ତାଙ୍କର ପରିଧାନ ଉପରେ ଆଧାର କରି ବିଭିନ୍ନ ପରିସ୍ଥିତିରେ ଭିନ୍ନ ଭିନ୍ନ ଭାବାବେଗ ଦେଇପାରନ୍ତି। ଉଦାହରଣ ସ୍ୱରୂପ, ବିବାହ ପାଇଁ ପିନ୍ଧା ଯାଉଥିବା ପୋଷାକ ନିଶ୍ଚିତ ଭାବରେ ଛୁଟି କିମ୍ବା ବିଜିନେସ୍ ମିଟିଂ ପାଇଁ ବ୍ୟବହୃତ ପୋଷାକଠାରୁ ଭିନ୍ନ। କିନ୍ତୁ ସଠିକ୍ ଭାବରେ ପୋଷକା ଚୟନ କରାଗଲେ ବ୍ୟକ୍ତିର ଅନ୍ତର୍ନିହିତ ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ ସମସ୍ତ ଗେଟ୍-ଅପରେ ଉଜ୍ଜ୍ୱଳ ହୋଇପାରେ। ଯେତେବେଳେ ଆକ୍ସେସୋରାଇଜିଂ କଥା ଆସେ, ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ, ବ୍ୟକ୍ତିଗତ ପସନ୍ଦ ଏବଂ ସାମ୍ପ୍ରତିକ ଧାରା ଉପରେ ଆଧାର କରି କାହାକୁ ଷ୍ଟାଇଲ୍ ରେ ସଜେଇବା ଅତ୍ୟନ୍ତ କୌତୁହଳପ୍ରଦ ଅଟେ। ଜଣେ ମେଳାପୀ ମହିଳା ଯିଏ ସହଜରେ ସମସ୍ତଙ୍କ ସହ କଥା ହୋଇପାରନ୍ତି ଏବଂ ହୃଦୟ ଖୋଲି ହସନ୍ତି, ସେ ଟାସେଲ୍ କାନଫୁଲ କିମ୍ବା ଝୁମ୍ କା ପିନ୍ଧିଲେ ନ୍ୟାଚୁରାଲ୍ ଲାଗିବ। ତାଙ୍କ ମନ ଖୋଲା କଥାବାର୍ତ୍ତା ଏବଂ ହସ ସହିତ କାନଫୁଲଗୁଡ଼ିକ ମଧ୍ୟ ତାଳରେ ଦୋହଲି ଝୁମି ଉଠିବେ। ଯେତେବେଳେ ବିଜିନେସ୍ ମିଟିଂରେ, ଆପଣ ଅତ୍ୟଧିକ ଆତ୍ମବିଶ୍ୱାସ ଏବଂ ଆକର୍ଷଣୀୟ ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ ସାହାଯ୍ୟରେ ସମଗ୍ର ବୋର୍ଡ ରୁମ୍ ର ଧ୍ୟାନ ଆକର୍ଷଣ କରିବା ପାଇଁ ଚେଷ୍ଟା କରନ୍ତି, କିଛି ସୂକ୍ଷ୍ମ ଅଳଙ୍କାରର ବ୍ୟବହାର ଆପଣଙ୍କ ପ୍ରଚେଷ୍ଟାକୁ ସହଜ ଏବଂ ସୁଗମ କରିପାରେ। ମୋତିର ଷ୍ଟୁଡ୍, ସରଳ ତଥାପି ଆକର୍ଷଣୀୟ ବ୍ରେସଲେଟ୍, ଅଫିସ୍ ପିନ୍ଧି ଯିବା ପାଇଁ ହାଲ୍ କା ଚମତ୍କାର ଜ୍ୟାମିତିକ ଢାଞ୍ଚାରେ ଡିଜାଇନ୍ ହୋଇଥିବା ଅଳଙ୍କାର ଏଭଳି ଅବସରଗୁଡ଼ିକ ପାଇଁ କିଛି ସୁନ୍ଦର ବିକଳ୍ପ । ପାରମ୍ପରିକ ହିଁ ପ୍ରକୃତରେ କ୍ଲାସିକ୍। ସରଳ କିନ୍ତୁ ପାରମ୍ପରିକ ଅଳଙ୍କାର ସହିତ ମର୍ଯ୍ୟାଦାସମ୍ପନ୍ନ ପୋଷାକ ପିନ୍ଧିବା ଆପଣଙ୍କୁ ଭଲ ଲାଗେ। ଆଜିର ପିଢ଼ି ଅତି କମ୍ ଡିଜାଇନ୍ ହୋଇଥିବା ସ୍ଥାୟୀ ଭିଣ୍ଟେଜ୍ ଅଳଙ୍କାର ସବୁ ନିଜ ପାଖରେ ରଖିବା ପସନ୍ଦ କରୁଛନ୍ତି। କଳାରେ ରୁଚି ରଖୁଥିବା ଜଣେ ବ୍ୟକ୍ତି ଯେକୌଣସି ଜିନିଷରୁ ପ୍ରେରଣା ପାଇଥାନ୍ତି। ଆକାଶର ରଙ୍ଗଠାରୁ ଆରମ୍ଭ କରି ଆଧୁନିକ କଳାର ରଙ୍ଗ ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ, ସବୁ ଜିନିଷ କୌଣସି ଜିନିଷ ଗୋଟିଏ ସୃଜନଶୀଳ ମନ ପାଇଁ ପ୍ରେରଣାର ଉତ୍ସ ହୋଇଥାଏ। ଏହା ସେମାନଙ୍କର ଅଳଙ୍କାର ଶୈଳୀରେ ମଧ୍ୟ ପ୍ରଦର୍ଶିତ ହୋଇଥାଏ। ପାରମ୍ପରିକ ପ୍ରାଚୀନ ଅଳଙ୍କାରଠାରୁ ଆରମ୍ଭ କରି ଆଧୁନିକ ଅଳଙ୍କାର ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ; ଚଙ୍କି ପେଣ୍ଡାଣ୍ଟ ଏବଂ ଷ୍ଟେଟମେଣ୍ଟ ପିସ୍ଠାରୁ ସାଧାରଣ ଏବଂ ହାଲ୍ କା ଦୈନନ୍ଦିନ ପିନ୍ଧା ପୋଷାକ ଅଳଙ୍କାର ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ; ଉଜ୍ଜ୍ୱଳ ଏବଂ ବୋଲ୍ଡ ହୀରା ଅଳଙ୍କାରଠାରୁ ଆରମ୍ଭ କରି ମୋତିର ଏକ ସରଳ ଷ୍ଟ୍ରାଣ୍ଡ୍ ପର୍ଯ୍ୟନ୍ତ, ଜଣେ କଳାତ୍ମକ ବ୍ୟକ୍ତି ଏହି ଗହଣା ମଧ୍ୟରୁ ଯେକୌଣସିଟିକୁ ମଧ୍ୟ ଆକର୍ଷଣୀୟ କରିପାରନ୍ତି ଏବଂ ତଥାପି ସେମାନଙ୍କର ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ, ସେମାନଙ୍କର ବ୍ୟକ୍ତିଗତ ସ୍ପର୍ଶକୁ ବେଶଭୂଷା ମାଧ୍ୟମରେ ନିଶ୍ଚିତଭାବରେ ପରିପ୍ରକାଶ କରିପାରନ୍ତି। ବିବାହ ହେଉ କିମ୍ବା ପାର୍ଟି , ଷ୍ଟେଟମେଣ୍ଟ ପିସ୍ଗୁଡ଼ିକ ଅତ୍ୟନ୍ତ ଆତ୍ମବିଶ୍ୱାସୀ ମହିଳାମାନେ ପିନ୍ଧନ୍ତି, ସେମାନେ ଯେକୌଣସି ସ୍ଥାନକୁ ଗଲେ ମଧ୍ୟ ନିଜ ପ୍ରତି ଅନ୍ୟମାନଙ୍କର ଧ୍ୟାନ ଆକର୍ଷଣ କରିପାରିବେ। ଅପରପକ୍ଷେ, ଜଣେ ଅନ୍ତର୍ଦୃଷ୍ଟିସମ୍ପନ୍ନ ମହିଳା ଅତି ଚମତ୍କାର ତଥାପି ସୂକ୍ଷ୍ମ ଢଙ୍ଗରେ ପୋଷାକ ପିନ୍ଧନ୍ତି ଯାହା କେବଳ ଏକ ନୀରବ ସୌନ୍ଦର୍ଯ୍ୟକୁ ପ୍ରତିଫଳିତ କରିଥାଏ, ବେଳେବେଳେ ଏହା ଚମତ୍କାର କଳ୍ପନା ମଧ୍ୟ ହୋଇଥାଏ। ଅନେକ ପ୍ରକାର ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ ଭଳି ଅନେକ ଷ୍ଟାଇଲ୍ ର ଗହଣା ମଧ୍ୟ ରହିଛି। ଯେପରି ପ୍ରତ୍ୟେକ ବ୍ୟକ୍ତିତ୍ୱ ଅତୁଳନୀୟ, ସେହିପରି ପ୍ରତ୍ୟେକ ଶୈଳୀ ମଧ୍ୟ ଅନନ୍ୟ ଏବଂ ନିଜସ୍ୱ ଉପାୟରେ ସୁନ୍ଦର ଅଟେ।
Publisher: Kalyan Jewellers

मिलेनियल्सच्या प्राधान्यांमुळे दागिन्यांचे ट्रेंड्स कसे बदलले आहेत?

On
मिलेनियल्स म्हणजे सध्याच्या पिढीमधले कमावते लोक आहेत. 25-40 वर्षे या आयुष्यातील महत्त्वाच्या टप्प्याच्या वयोगटात असलेले हे लोक कोणत्याही अर्थव्यवस्थेचे आधारस्तंभ आहेत. मिलेनियल्सची मोठी लोकसंख्या असलेला भारत हा एक तरुण देश आहे. नव्याने कमवायला लागलेले असल्यामुळे या लोकांना गुंतवणुकीत स्वारस्य असते. अशावेळी, सोने हा कोणत्याही पिढीसाठी एक सुरक्षित आणि सर्वांत जास्त वापरला जाणारा पर्याय आहे. मिलेनियल्सचा फॅशनचा आणि दागिन्यांचा सेन्ससुद्धा चांगला आहे, त्यामुळे ते आपली स्टाईल, आवड आणि ट्रेंड यानुसार सोन्याचे दागिने खरेदी करून एका दगडात दोन पक्षी मारू शकतात. सध्या ट्रेंडमध्ये असलेले काही दागिने म्हणजे अनेक पदरी चेन्स, मोत्याचे दागिने, वजनाला हलके हिऱ्याचे दागिने, तुमच्या आवडत्या रंगाचे हिऱ्याचे दागिने आणि अशाप्रकारचे अनेक दागिने. मिलेनियल्समध्ये जास्त दिसणारा अजून एक प्रकार म्हणजे मिनीमॅलीस्टिक स्टायलिंग. आजकालच्या अनेक तरुणांच्या जीवनशैलीमध्ये हे स्वीकारले जाते. नैसर्गिकरीत्याच दागिन्यांचे स्टायलिंग करतानासुद्धा हीच आवड समोर येते. त्यांना अनेक दागिने विकत घ्यायला आवडतात पण अॅक्सेसरीज घालताना त्यांना मिनीमॅलीस्टिक दृष्टीकोन आवडतो. सोन्याच्या दागिन्यांमध्ये मिनीमॅलीस्टिक डिझाईन उदा. साधे टसल हिऱ्याचे इअररिंग्ज, हलके आणि फॅन्सी रोज गोल्डचे दागिने, साधे मोत्याचे स्टड्स, मोत्याचे नेकलेसेस, फॅन्सी पेंडंट असलेल्या हलक्या चेन्स सध्या ट्रेंडमध्ये आहेत. “कमी म्हणजेच जास्त” या मंत्रानुसार त्या नजरेत येणार नाहीत अशाप्रकारे मिक्स आणि मॅच केल्या जातात. भौमितिक पॅटर्न असलेले दागिनेसुद्धा सध्या लोकप्रिय आहेत, स्टड्स, ड्रॉप्स, हिऱ्याच्या इअररिंग्ज, पेंडंट्स किंवा ब्रेसलेट्स यामध्ये भौमितिक पॅटर्न असलेल्या डिझाईनला जास्त मागणी आहे कारण ते कोणत्याही प्रकरच्या पोशाखावर खुलून दिसतात, मग तो कॅज्युअल डे आऊट असो किंवा बिझनेस मिटिंग असू दे. हया मिनीमॅलीस्टिक दागिन्यांचे स्टायलिंग करण्याचा एक आकर्षक मार्ग म्हणजे त्यांचे स्टॅकिंग करणे. जीन्स आणि टी-शर्ट घातलेल्या स्त्रियांपासून ते क्रिस्प बिझनेस सूट्स घातलेल्या स्त्रियांपर्यंत, कोणीही हया लूकमध्ये तुम्हाला दिसेल. गळ्याभोवती अनेक बारीक चेन्स अशा कलात्मक पद्धतीने घातल्या जातात की त्या फार भडक दिसल्या नाहीत तरीही त्यामुळे लोकांचे लक्ष क्षणार्धात वेधून घेतले जाते. हीच स्टाईल ब्रेसलेट्स आणि बांगड्या घालून करता येते. वधूच्या वेशभूषेचा विचार केला जातो तेव्हा, सर्वांत महत्त्वाचा मिलेनियल्सचा गुणधर्म दिसून येतो तो म्हणजे शाश्वतता. एका पिढीकडून दुसऱ्या पिढीकडे सोपवलेले व्हिंटेज दागिने म्हणजे भावना गुंफलेला एक सुंदर प्रकार असतो. जेव्हा एखादी वधू इअर रिंग्ज, ब्रेसलेट्स, बांगड्या, अंगठ्या किंवा नेकलेसेस असे सुंदर रंगांचे हिऱ्यांचे दागिने घालते तेव्हा तिचा फॅशन सेन्स आणि व्यक्तिमत्व त्यातून उठून दिसते. आपला फॅशन सेन्स आणि आवडी यामध्ये प्रत्येक पिढी क्रांती घडवत असते. ते घालत असलेले पोशाख आणि दागिने यातून ते सर्वोत्तम पद्धतीने दिसून येते.
Publisher: Kalyan Jewellers

ਕਿਸ ਪ੍ਰਕਾਰ ਦੇ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਦੀ ਪਸੰਦ-ਨਾਪਸੰਦ ਨੇ ਜਵੈਲਰੀ ਰੁਝਾਨ ਨੂੰ ਪ੍ਰਭਾਵਿਤ ਕੀਤਾ ਹੈ

On
ਅੱਜ ਦੀ ਪੀੜ੍ਹੀ ਘੱਟ ਉਮਰ ਵਿੱਚ ਹੀ ਪੈਸੇ ਕਮਾਉਣਾ ਸ਼ੁਰੂ ਕਰ ਦਿੰਦੀ ਹੈ। ਅੱਜ ਦੇ ਸਮੇਂ ਵਿੱਚ ਕਿਸੇ ਵੀ ਅਰਥਵਿਵਸਥਾ ਵਿੱਚ 25-40 ਸਾਲ ਦੇ ਲੋਕਾਂ ਦਾ ਬਹੁਤ ਵੱਡਾ ਯੋਗਦਾਨ ਹੈ। ਭਾਰਤ ਵਿੱਚ ਇੱਕ ਬਹੁਤ ਵੱਡਾ ਵਰਗ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਦਾ ਹੈ। ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਵਿੱਚ ਅਨੇਕਾਂ ਗੁਣ ਹੁੰਦੇ ਹਨ। ਅਨੇਕ ਚੀਜ਼ਾਂ ਅੱਜ ਦੇ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਦਾ ਰਵੱਈਆ ਅਤੇ ਜਾਗਰੂਕਤਾ ਪ੍ਰਭਾਵਿਤ ਕਰਦੀਆਂ ਹਨ। ਪੈਸਾ ਕਮਾਉਣ ਦੇ ਨਾਲ ਹੀ ਉਹ ਪੈਸੇ ਦਾ ਨਿਵੇਸ਼ ਕਰਨਾ ਵੀ ਪਸੰਦ ਕਰਦੇ ਹਨ। ਅਜਿਹੇ ਮਾਮਲਿਆਂ ਵਿੱਚ, ਕਿਸੇ ਵੀ ਪੀੜ੍ਹੀ ਲਈ ਸੋਨਾ ਸਭ ਤੋਂ ਸੁਰੱਖਿਅਤ ਅਤੇ ਪਸੰਦੀਦਾ ਵਿਕਲਪ ਹੁੰਦਾ ਹੈ। ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਨੂੰ ਫੈਸ਼ਨ ਅਤੇ ਜਵੈਲਰੀ ਦੀ ਵੀ ਬਹੁਤ ਸਮਝ ਹੁੰਦੀ ਹੈ, ਇਸ ਤਰ੍ਹਾਂ ਨਾਲ ਉਹ ਆਪਣੀ ਪਸੰਦ ਦੇ ਸਟਾਇਲ ਅਤੇ ਰੁਝਾਨ ਵਾਲੀ ਸੋਨੇ ਦੀ ਜਵੈਲਰੀ ਖਰੀਦ ਕੇ ਇੱਕ ਤੀਰ ਨਾਲ ਦੋ ਨਿਸ਼ਾਨੇ ਲਗਾ ਸਕਦੇ ਹਨ। ਅੱਜ-ਕੱਲ ਕਈ ਕੜੀਆਂ ਵਾਲੀ ਚੇਨ, ਮੋਤੀਆਂ ਦੀ ਜਵੈਲਰੀ, ਹੀਰੇ ਦੀ ਹਲਕੇ ਵਜ਼ਨ ਵਾਲੀ ਜਵੈਲਰੀ, ਤੁਹਾਡੇ ਪਸੰਦੀਦਾ ਰੰਗਾਂ ਵਾਲੀ ਹੀਰੇ ਦੀ ਜਵੈਲਰੀ ਆਦਿ ਦਾ ਫੈਸ਼ਨ ਹੈ। ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਦੀ ਇੱਕ ਹੋਰ ਖਾਸੀਅਤ ਹੁੰਦੀ ਹੈ ਕਿ ਉਹਨਾਂ ਨੂੰ ਸਾਦੇ ਸਟਾਇਲ ਪਸੰਦ ਆਉਂਦੇ ਹਨ। ਅੱਜ ਦੇ ਕਈ ਨੌਜਵਾਨਾਂ ਦੀ ਜੀਵਨਸ਼ੈਲੀ ਵੀ ਸਾਦੀ ਹੁੰਦੀ ਹੈ। ਸੁਭਾਵਿਕ ਹੈ ਕਿ ਉਹਨਾਂ ਨੂੰ ਜਵੈਲਰੀ ਵੀ ਇਸੇ ਸਟਾਇਲ ਵਿੱਚ ਪਸੰਦ ਆਉਂਦੀ ਹੋਵੇ। ਉਹਨਾਂ ਨੂੰ ਅਨੇਕ ਪ੍ਰਕਾਰ ਦੀ ਜਵੈਲਰੀ ਇਕੱਠਾ ਕਰਨਾ ਚੰਗਾ ਲੱਗਦਾ ਹੈ ਪਰ ਉਹਨਾਂ ਨੂੰ ਬਹੁਤ ਸਾਰੀ ਜਵੈਲਰੀ ਇਕੱਠਾ ਪਹਿਨਣਾ ਪਸੰਦ ਨਹੀਂ ਆਉਂਦਾ ਹੈ। ਸੋਨੇ ਦੀ ਜਵੈਲਰੀ ‘ਤੇ ਸਾਦੇ ਡਿਜ਼ਾਇਨ ਜਿਵੇਂ ਕਿ ਹੀਰੇ ਦੀਆਂ ਲੰਬੀਆਂ ਵਾਲੀਆਂ, ਹਲਕੀ ਅਤੇ ਫੈਂਸੀਰੋਜ਼ ਗੋਲਡ ਜਵੈਲਰੀ, ਮੋਤੀ ਦੇ ਸਧਾਰਨ ਗੁਲਮੇਖ, ਫੈਂਸੀ ਪੈਂਡੈਂਟ ਦੇ ਨਾਲ ਹਲਕੀ ਚੇਨ ਆਦਿ, ਦਾ ਫੈਸ਼ਨ ਅੱਜ-ਕੱਲ ਬਹੁਤ ਹੈ। ਅੱਜ ਦੀ ਪੀੜੀ ਦਾ ਮੰਤਰ ਹੈ “ਘੱਟ ਹੀ ਜ਼ਿਆਦਾ ਹੈ” ਅਤੇ ਇਸ ਲਈ ਹਲਕੇ-ਫੁਲਕੇ ਤਰੀਕੇ ਨਾਲ ਮਿਲਾ ਕੇ ਪਹਿਨਿਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ। ਅੱਜ-ਕੱਲ ਜਯਾਮਿਤੀ ਪੈਟਰਨ ਵਾਲੀ ਜਵੈਲਰੀ ਵੀ ਬਹੁਤ ਪਸੰਦ ਕੀਤੀ ਜਾਂਦੀ ਹੈ। ਚਾਹੇ ਗੁਲਮੇਖ, ਨੋਜ਼ਪਿਨ, ਹੀਰੇ ਦੀਆਂ ਕੰਨ ਵਾਲੀਆਂ ਵਾਲੀਆਂ, ਪੈਂਡੇਂਟ ਜਾਂ ਬ੍ਰੇਸਲੇਟ, ਜਯਾਮਿਤੀ ਡਿਜ਼ਾਇਨ ਅੱਜ-ਕੱਲ ਬਹੁਤ ਪਸੰਦ ਕੀਤੇ ਜਾਂਦੇ ਹਨ ਕਿਉਂਕਿ ਇਹਨਾਂ ਦਾ ਮੇਲ ਕਿਸੇ ਵੀ ਪਹਿਨਾਵੇ ਅਤੇ ਭੇਸ ਦੇ ਨਾਲ ਕੀਤਾ ਜਾ ਸਕਦਾ ਹੈ, ਚਾਹੇ ਕਦੇ-ਕਦੇ ਪਹਿਨਣਾ ਹੋਵੇ ਜਾਂ ਕਿਸੇ ਬਿਜਨਿਸ ਮੀਟਿੰਗ ਵਿੱਚ। ਇਸ ਪ੍ਰਕਾਰ ਦੀ ਸਾਦੀ ਜਵੈਲਰੀ ਨੂੰ ਸਟਾਇਲ ਕਰਨ ਦਾ ਇੱਕ ਦਿਲਚਸਪ ਤਰੀਕਾ ਹੈ ਉਹਨਾਂ ਨਾਲ ਇੱਕ ਪਹਿਨਣਾ। ਜੀਨਸ ਅਤੇ ਟੀ-ਸ਼ਰਟ ਪਹਿਨਣ ਵਾਲੀਆਂ ਔਰਤਾਂ ਤੋਂ ਲੈ ਕੇ ਬਿਜਨਿਸ ਸੂਟ ਪਹਿਨਣ ਵਾਲੀਆਂ ਔਰਤਾਂ ਤੱਕ, ਤੁਸੀਂ ਇਸ ਪ੍ਰਕਾਰ ਦੇ ਭੇਸ ਵਿੱਚ ਹਰ ਕਿਸੇ ਨੂੰ ਦੇਖ ਸਕਦੇ ਹੋ। ਅਨੇਕ ਪ੍ਰਕਾਰ ਦੀ ਸਧਾਰਨ ਗਲੇ ਵਾਲੀ ਚੇਨ ਇਸ ਪ੍ਰਕਾਰ ਨਾਲ ਪਹਿਨੀ ਜਾਂਦੀ ਹੈ ਕਿ ਕਿਸੇ ਦਾ ਵੀ ਧਿਆਨ ਉਸ ਵੱਲ ਤੁਰੰਤ ਚਲਾ ਜਾਵੇ। ਇਸ ਸਟਾਇਲ ਨੂੰ ਬ੍ਰੇਸਲੇਟ ਅਤੇ ਚੂੜੀਆ ‘ਤੇ ਵੀ ਅਜ਼ਮਾਇਆ ਜਾ ਸਕਦਾ ਹੈ। ਜਦ ਵੀ ਗੱਲ ਦੁਲਹਨ ਦੇ ਸਾਜ-ਸਮਾਨ ਦੀ ਹੋਵੇ, ਤਾਂ ਅੱਜ ਦਾ ਨੌਜਵਾਨ ਵਰਗ ਵਿਰਾਸਤ ਵਿੱਚ ਸਮਾਨ ਨੂੰ ਪਹਿਨਣਾ ਪਸੰਦ ਕਰਦਾ ਹੈ। ਪੀੜੀ-ਦਰ-ਪੀੜੀ ਅੱਗੇ ਸੌਂਪੀ ਗਈ ਪੁਰਾਣੀ ਜਵੈਲਰੀ ਦੇ ਨਾਲ ਸੁੰਦਰ ਭਾਵਨਾਵਾਂ ਜੁੜੀਆਂ ਹੁੰਦੀਆਂ ਹਨ। ਕਿਸੇ ਵੀ ਦੁਲਹਨ ਦੀ ਫੈਸ਼ਨ ਦੀ ਸਮਝ ਅਤੇ ਵਿਅਕਤਿੱਤਵ ਉਦੋਂ ਸਾਹਮਣੇ ਆਉਂਦਾ ਹੈ ਜਦੋਂ ਉਹ ਸੁੰਦਰ ਰੰਗੀਨ ਹੀਰੇ ਦੀ ਜਵੈਲਰੀ ਪਹਿਨਦੀ ਹੈ ਫਿਰ ਚਾਹੇ ਉਹ ਕੰਨ ਦੀਆਂ ਵਾਲੀਆਂ, ਬ੍ਰੈਸਲੈਟ, ਚੂੜੀਆਂ, ਅੰਗੂਠੀਆਂ ਜਾਂ ਗਲੇ ਦਾ ਹਾਰ ਹੋਵੇ। ਹਰੇਕ ਪੀੜ੍ਹੀ ਦੀ ਫੈਸ਼ਨ ਦੀ ਸਮਝ ਅਤੇ ਪਸੰਦ-ਨਾਪਸੰਦ ਵੱਖ-ਵੱਖ ਹੁੰਦੀ ਹੈ। ਇਸਦਾ ਪ੍ਰਦਰਸ਼ਣ ਉਹਨਾਂ ਦੀ ਪਹਿਨਾਵਾ ਅਤੇ ਜਵੈਲਰੀ ਨਾਲ ਹੁੰਦਾ ਹੈ।
Publisher: Kalyan Jewellers

ஸ்டைலான நகைகள் - உங்களுடைய ஆளுமையை எடுப்பாகக் காட்டுகிறது

On
நடைமுறையான மற்றவர்களிடம் இருந்து வேறுபடுத்திக் காட்டி, நம்மை வித்தியாசமான மனிதர்களாக ஆக்குவது நமது ஆளுமை. நாம் எப்படி சிந்திக்கிறோம், எப்படிச் செயல்படுகிறோம், எப்படி பேசுகிறோம், எப்படி நம்மை காட்டுகிறோம் என்பதைப் பொறுத்து நமது ஆளுமை அமைகிறது. ஒருவர் எந்த மாதிரி ஆடைகளை அணிகிறார், அதற்குப் பொருத்தமான நகைகளை அணிகிறாரா என்பதில் இருந்து அவருடைய ஆளுமையை மிகவும் சுலபமாக எடைபோட்டு விடலாம். அதே மனிதர் தமது ஆடை அலங்காரங்களின் அடிப்படையில் இன்னொரு சமயத்தில் இன்னொரு விதமாக வித்தியாசமான தோற்றத்தைத் தரலாம். உதாரணமாக, ஒரு கல்யாணத்திற்காக ஆடைகளை அணிவது என்பது நிச்சயமாக சிறப்பானது. அது ஒரு விடுமுறைக்காக அல்லது வணிக கூட்டத்திற்காக ஆடைகள் அணிவதை விட வித்தியாசமானது. ஆனால் இந்த ஆடை அலங்காரங்கள் அனைத்தையும் சரியான முறையில் செய்தால், ஒரு மனிதரின் உள்ளுறை ஆளுமை எடுப்பாகத் தெரியும். ஒருவருடைய ஆளுமை, அவரின் தனிப்பட்ட விருப்பு வெறுப்பு, மற்றும் நடைமுறைக்கு ஏற்ப அவர் அணியும் செயல்பாடுகள் அவரது நடைமுறையை தீர்மானிக்கின்றன. வாய்திறந்து மனம் விட்டுச் சிரித்து, கொஞ்சம் கூட தயக்கம் இல்லாமல் உரையாடும் ஒருவர் தமது வெளிப்படையான தன்மையை எடுத்துக் காட்டும் வகையில், ஊஞ்சலாடும் காதணிகள் அல்லது ஜிமிக்கிகள் பொருத்தமாக இருக்கும். நீங்கள் சந்தோஷத்தோடு திரும்பும்போது எல்லாம் இவை அசைந்து அசைந்து அனைவரின் கவனத்தையும் ஈர்க்கும். ஒரு வணிக கூட்டத்தில் இருக்கும்போது, நீங்கள் வெளிப்படுத்தும் உங்களுடைய தன்னம்பிக்கையும், சபை கூட்டங்களில் அனைவரின் கவனத்தையும் ஈர்க்கக்கூடிய கவர்ச்சியும் நீங்கள் அணியும் நகைகளின் மூலம் பளிச்சிடுகின்றன. முத்துத் தோடுகள், எளிமையான ஆனால் கண்களைக் கவரக்கூடிய பிரேஸ்லெட்டுகள், அலுவலகம் போகும்போது அணியும் வடிவியல் முறைகளுடன் கூடிய எளிமையான நகைகள் இந்த மாதிரியான வணிக கூட்டங்களுக்குப் பொருத்தமாக இருக்கலாம். பாரம்பரியமான நடை என்பது ஒரு பழைமைத் தன்மையைக் கொண்டது. பாரம்பரிய உடைகளை அணிந்து அவற்றுக்கு பொருத்தமாக எளிமையான ஆனல் மரபுவழி வந்த நகைகளை அணிவது உங்களை வேறுபடுத்திக் காட்டும். இன்றைய புதுயுக மனிதர்கள் குறைவான ஃபேஷனுடன் பழைய தலைமுறைகளிடம் இருந்து கைமாறி வந்த நகைகளை வைத்திருக்க விரும்புகின்றனர். கலைநயம் மிக்க ஒருவருக்கு ஒவ்வொன்றும் உணர்வூக்கம் தருவதாக இருக்கும். ஆகாயத்தின் நிறங்களில் இருந்து ஒரு நவீன வடிவமைப்பில் தெரியும் வண்ணக்கலவை வரை, எது வேண்டுமானாலும் அவருடைய படைப்பு மனதுக்கு ஊக்கம் தருவதாக அமையும். இந்த மனப்போக்கு அவர்கள் அணியும் நகைகளின் மூலம் எடுத்துக் காட்டப்படுகிறது. பாரம்பரியமான பழங்கால நகைகளில் இருந்து நவீன ஆடம்பரமான நகைகள் வரை, எடுப்பான பதக்கங்கள் மற்றும் ஸ்டேட்மென்ட் நகைகளில் இருந்து அன்றாடம் அணியக்கூடிய எளிமையான, நடைமுறையான நகைகள் வரை, பிரகாசமான, எடுப்பாகத் தெரியும் வைர நகைகளில் இருந்து எளிமையான ஒற்றை இழை முத்துச்சரம் வரை எந்த ஒரு நகையையும் கலைநயம் மிக்க ஒருவர் தனது ஆளுமையை வெளிப்படுத்தி, தோற்றத்தில் ஒரு தனிப்பட்ட தொடர்பு கொடுப்பதற்கு பயன்படுத்திக் கொள்ள முடியும். திருமணம் ஆகட்டும், அல்லது ஒரு விருந்து ஆகட்டும் வித்தியாசமாகக் காட்டும் ஸ்டேட்மென்ட் நகைகளை மிகவும் தன்னம்பிக்கை வாய்ந்த பெண்மணிகள் அணிந்து, தாங்கள் செல்லக்கூடிய இடங்களில் எல்லாம் கவனத்தை ஈர்க்கின்றனர். இதற்கு மாறாக, அடக்கமாக இருக்கக்கூடிய ஒருவர் மிகவும் நேர்த்தியாகவும், அதே வேளையில் எளிமையாக உடைகளை அணிந்து அமைதியான ஓர் அழகை பூடகமாக வெளிப்படுத்துகிறார். எத்தனை விதமான ஆளுமைகள் இருக்கிறார்களோ அத்தனை விதமான நடைமுறையான நகைகள் இருக்கின்றன. ஒவ்வொரு ஆளுமையிலும் வித்தியாசமானவர்கள் என்பதைப் போலவே, ஒவ்வொரு நடைமுறையிலும் வித்தியாசமானது. தனக்கென்று தனியாக ஒரு அழகை அது கொண்டிருக்கிறது.
Publisher: Kalyan Jewellers

किस प्रकार से युवाओं की पसंद-नापसंद ने ज्वेलरी रुझान को प्रभावित किया है

On
आज की पीढ़ी कम उम्र में ही पैसे कमाना शुरू कर देती है। आज के समय में किसी भी अर्थव्यवस्था में 25-40 वर्ष के लोगों का बहुत बड़ा योगदान है। भारत में एक बहुत बड़ा वर्ग युवा है। युवाओं में अनेक गुण होते हैं। अनेक चीज़ों आज के युवाओं का रवैया और जागरूकता प्रभावित करती हैं। पैसा कमाने के साथ ही वे पैसे का निवेश करना भी पसंद करते हैं। ऐसे मामलों में, किसी भी पीढ़ी के लिए सोना सबसे सुरक्षित और पसंदीदा विकल्प होता है। युवाओं को फ़ैशन और ज्वेलरी की भी बहुत समझ होती है, इस तरह से वे अपनी पसंद के स्टाइल और रुझान वाली सोने की ज्वेलरी खरीद कर एक तीर से दो निशाने लगा सकते हैं। आजकल कई कड़ियों वाली चेन, मोतियों की ज्वेलरी, हीरे की हल्के वज़न वाली ज्वेलरी, आपके पसंदीदा रंगों वाली हीरे की ज्वेलरी आदि का फैशन है। युवाओं की एक और खासियत होती है कि उन्हें सादे स्टाइल पसंद आते हैं। आज के कई युवाओं की जीवनशैली भी सादी होती है। स्वाभाविक है कि उन्हें ज्वेलरी भी इसी स्टाइल में पसंद आती है। उन्हें अनेक प्रकार की ज्वेलरी इकट्ठा करना अच्छा लगता है लेकिन उन्हें बहुत सारी ज्वेलरी एक साथ पहनना पसंद नहीं आता है। सोने की ज्वेलरी पर सादे डिज़ाइन जैसे कि हीरे की लंबी बालियाँ, हल्की और फ़ैन्सी रोज़ गोल्ड ज्वेलरी, मोती के साधारण गुलमेख, फ़ैन्सी पेंडेंट के साथ हल्की चेन आदि, का फ़ैशन आजकल बहुत है। आज की पीढ़ी का मंत्र है “कम ही ज़्यादा है” और इसीलिए उन्हें हल्के-फुल्के तरीके से मिलाकर पहना जाता है। आजकल ज्यामितीय पैटर्न वाली ज्वेलरी भी बहुत पसंद की जाती है। चाहे गुलमेख, नोज़ पिन, हीरे की कान की बालियाँ, पेंडेंट या ब्रेसलेट, ज्यामितीय डिज़ाइन आजकल बहुत पसंद किए जाते हैं क्योंकि इनका मेल किसी भी पहनावे और भेष के साथ किया जा सकता है, चाहे कभी-कभार पहनना हो या किसी बिज़नेस मीटिंग में। इस प्रकार की सादी ज्वेलरी को स्टाइल करने का एक दिलचस्प तरीका है उन्हें एक साथ पहनना। जींस और टी-शर्ट पहनने वाली महिलाओं से लेकर बिज़नेस सूट पहनने वाली महिलाओं तक, आप इस प्रकार के भेष में हर किसी को देख सकते हैं। अनेक प्रकार की साधारण गले वाली चेन इस प्रकार से पहनी जाती है कि किसी का भी ध्यान उस ओर तुरंत ओर चला जाए। इसी स्टाइल को ब्रेसलेट और चूड़ियों पर भी आज़माया जा सकता है। जब बात दुल्हन के साज सामान की हो, तो आज का युवा वर्ग विरासत में मिले सामान को पहनना पसंद करता है। पीढ़ी-दर-पीढ़ी आगे सौंपी गई पुरानी ज्वेलरी के साथ सुंदर भावनाएं जुड़ी हुई होती हैं। किसी भी दुल्हन की फ़ैशन की समझ और व्यक्तित्व तब सामने आता है जब वह सुंदर रंगीन हीरे की ज्वेलरी पहनती है फिर चाहे वो कान की बालियाँ, ब्रेसलेट, चूड़ियाँ, अंगूठियाँ या गले के हार हों। प्रत्येक पीढ़ी की फ़ैशन की समझ और पसंद-नापसंद अलग-अलग होती है। इसका प्रदर्शन उनकी वेषभूषा और ज्वेलरी से होता है।
Publisher: Kalyan Jewellers

സഹസ്രാബ്ദക്കാരുടെ അഭിരുചികൾ എങ്ങനെയാണ് ആഭരണ പ്രവണതകൾ പുന:ക്രമീകരിച്ചത്਀

On
സഹസ്രാബ്ദക്കാർ നിലവിലെ തലമുറയ്ക്ക് ആഹാരത്തിനുള്ള വക കണ്ടെത്തുന്നവരാണ്. 25-40 വയസ് എന്ന ഏറ്റവും മികച്ച പ്രായവിഭാഗത്തിൽ പരന്നുകിടക്കുന്ന അവർ ഏതൊരു സമ്പദ് വ്യവസ്ഥയെയും താങ്ങിനിർത്തുന്ന തൂണുകളാണ്. സഹസ്രാബ്ദക്കാരായ വൻതോതിലുള്ള ജനസംഖ്യയുള്ള ഒരു രാഷ്ട്രമാണ് ഇന്ത്യ. ഒരു സഹസ്രാബ്ദക്കാരനെ നിർവചിക്കുന്ന അനേകം ഗുണങ്ങളുണ്ട്. ഇന്നത്തെ സഹസ്രാബ്ദക്കാരുടെ മനോഭാവങ്ങളും അവബോധവും വൈവിധ്യമുള്ള അനേകം വസ്തുക്കളാൽ സ്വാധീനിക്കപ്പെടുന്നു. പുതിയതായി വരുമാനം നേടുന്നവരാകയാൽ, അവർ നിക്ഷേപങ്ങൾ നടത്താൻ ഇഷ്ടപ്പെടുന്നു. അത്തരമൊരു സാഹചര്യത്തിൽ, ഏതൊരു തലമുറയെ സംബന്ധിച്ചും ഏറ്റവും സുരക്ഷിതവും ഏറ്റവും സ്വീകാര്യവുമായ ഐച്ഛികങ്ങളിൽ ഒന്ന് സ്വർണ്ണമാണ്. സഹസ്രാബ്ദക്കാർക്കും ഫാഷനിലും ആഭരണങ്ങളിലും നല്ല താല്പര്യമുണ്ട്, അതിനാൽ തങ്ങളുടെ സ്റ്റൈൽ, അഭിരുചി, പ്രവണത ഇവയ്ക്ക് അനുയോജ്യമായ സ്വർണ്ണാഭരണങ്ങൾ വാങ്ങുന്നതിലൂടെ ഒരു വെടിക്കു രണ്ടു പക്ഷിയെ കൊല്ലാൻ അവർക്കു കഴിയും. അനേകം ലിങ്കുകളുള്ള ചെയിനുകൾ, പേൾ ആഭരണങ്ങൾ, ലഘുവായ വജ്ര ആഭരണം, നിങ്ങളുടെ പ്രിയങ്കര നിറങ്ങൾ പൂശിയ വജ്രാഭരണം എന്നിവ പോലുള്ളവയാണ് ഇപ്പോൾ പ്രവണത പുലർത്തുന്ന ആഭരണങ്ങളിൽ ചിലത്. സഹസ്രാബ്ദക്കാരിലുള്ള പൊതുവായ മറ്റൊരു ഗുണം മിനിമലിസ്റ്റിക് സ്റ്റൈലിംഗ് ആണ്. അനേകം യുവാക്കളുടെ ജീവിതശൈലിയിൽ ഇന്നിത് സ്വീകരിക്കപ്പെട്ടിരിക്കുന്നു. ആഭരണങ്ങൾ സ്റ്റൈൽ ചെയ്യുന്നതിലും ഇതേ മുൻഗണനകൾ വരുന്നത് സ്വാഭാവികമാണ്. അനേകം ആഭരണങ്ങൾ സ്വന്തമാക്കാൻ അവരാഗ്രഹിക്കുന്നു എങ്കിലും ആഭരണങ്ങൾ ധരിക്കുന്ന കാര്യത്തിൽ, ഒരു മിനിമലിസ്റ്റിക് സമീപനമാണ് അവർ ഇഷ്ടപ്പെടുന്നത്. ലളിതമായ തൊങ്ങളുള്ള വജ്ര കമ്മൽ, കനംകുറഞ്ഞ ഫാൻസി റോസ് ഗോൾഡ് ആഭരണം, ലളിതമായ പേൾ മൂക്കുത്തി, പേൾ നെക്ലേസ്, ഫാൻസി പതക്കങ്ങൾക്കൊപ്പം കനം കുറഞ്ഞ ചെയിനുകൾ തുടങ്ങിയ സ്വർണ്ണാഭരണങ്ങളിലെ മിനിമലിസ്റ്റിക് ഡിസൈനുകൾ ഇപ്പോൾ ട്രെൻഡ് ആണ്. "കുറവാണ് കൂടുതൽ" എന്ന മന്ത്രം പ്രഖ്യാപിക്കുന്ന നിഗൂഢമായ രീയിയിൽ അവരത് കൂട്ടിക്കലർത്തുന്നു. ജ്യാമിതീയ രൂപങ്ങളിലുള്ള ആഭരണങ്ങൾ ഇന്നത്തെ കാലത്ത് പ്രിയങ്കരമായ മറ്റൊന്നാണ്. മൂക്കുത്തി, ഡ്രോപ്സ്, വജ്ര കമ്മലുകൾ, പതക്കങ്ങൾ അല്ലെങ്കിൽ ബ്രേസ്ലെറ്റ് ആകട്ടെ, ജ്യാമിതീയ ഡിസൈനുകൾ ഏതു വേഷത്തിനും ഏത് രൂപഭാവത്തിനു ം, അത് വെറുതേ ഒന്നു പുറത്തിറങ്ങുന്നതാകാം അല്ലെങ്കിൽ ബിസിനസ് മീറ്റിംഗ്, ഇണങ്ങുന്നതായതിനാൽ അവ പലരും തേടിച്ചെല്ലുന്ന ഡിസൈനുകളാണ്. ഈ മിനിമലിസ്റ്റ് ആഭരണങ്ങൾ അണിയുന്നതിനുള്ള രസകരമായ ഒരു മാർഗ്ഗം അവ കുന്നുകൂട്ടുന്നതിലാണ്. ജീൻസും ടി-ഷർട്ടും ധരിച്ച സ്ത്രീകൾ മുതൽ വിശദമായ ബിസിനസ് സ്യൂട്ടിലുള്ള സ്ത്രീകൾ വരെ, എല്ലാവരും ഈ രൂപഭാവം സ്വീകരിക്കുന്നത് നിങ്ങൾക്കു കാണാം. കഴുത്തിൽ കനം കുറഞ്ഞ ചെയിനുകളുടെ ഒരു നിര കലാപരമായി അണിഞ്ഞിരിക്കുന്നതിനാൽ, ആർഭാടമുള്ളതല്ലാതിരുന്നിട്ടും ഒരു മിന്നിമറയലിൽ ഏതൊരാളിന്റെയും ശ്രദ്ധ ആകർഷിക്കാൻ അതിനു കഴിയും. ഇതേ സ്റ്റൈൽ തന്ന ബ്രേസ്ലെറ്റിന്റെയും വളകളുടെയും കാര്യത്തിലും അനുകരിക്കാൻ കഴിയും. വധുവിന്റെ ചമയങ്ങളുടെ കാര്യം വരുമ്പോള്‍, ഏറ്റവുമധികം തിളങ്ങുന്ന സഹസ്രാബ്ദ ഗുണം സുസ്ഥിരതയാണ്. തലമുറ തലമുറയായി കൈമാറപ്പെടുന്നതിനാൽ, പഴക്കമുള്ളആഭരണത്തിൽ വൈകാരികതയുടെ മനോഹരമായ ഒരു ഡോസജ് അനുബന്ധിപ്പിക്കപ്പെടുന്നു. ഏതൊരു വധുവിന്റെയും ഫാഷൻ ബോധവും വ്യക്തിത്വവും ധീരമായ മട്ടിൽ പുറത്തേക്കു വരുന്നത് കമ്മൽ, ബ്രേസ്ലെറ്റ്, വള, മോതിരം അല്ലെങ്കിൽ നെക്ലേസിന്റെ രൂപത്തിൽ മനോഹരമായി കളർ സ്റ്റെയ്ൻഡ് ആയ ഒരു വജ്രാഭരണം അവൾ അണിയുമ്പോഴാണ്. ഓരോ തലമുറയ്ക്കും അവരുടെ ഫാഷന്റെയും അഭിരുചികളുടെയും അവബോധത്തിൽ ഒരു വിപ്ലവമുണ്ട്. അത് ഏറ്റവും നന്നായി പ്രദർശിപ്പിക്കപ്പെടുന്നത് അവർ ധരിക്കുന്ന വേഷത്തിലും ആഭരണങ്ങളിലുമാണ്.

दागिन्यांचे स्टायलिंग – तुमचे व्यक्तिमत्त्व खुलवण्याचे साधन

On
आपले इतरांपेक्षा असलेले वेगळेपण आणि आपले वैशिष्ट्य म्हणजे आपले व्यक्तिमत्त्व. आपण ज्या प्रकारे विचार करतो, कृती करतो, बोलतो आणि स्वत:ला सादर करतो. त्यातून आपले व्यक्तिमत्त्व दिसून येते. एखाद्याचे व्यक्तिमत्व खुलवण्याचा एक सर्वांत सोपे आणि सर्वांत ठळक साधन म्हणजे पोशाख निवडणे आणि त्याला शोभतील असे योग्य मॅचिंग दागिने निवडणे. एकाच व्यक्तीचे वेगवेगळ्या स्थितीत, तिच्या पोशाखानुसार वेगवेगळे रूप दिसते. उदाहरणार्थ, लग्नासाठी पोशाख करणे हे सुट्टीसाठी किंवा बिझनेस मिटिंगसाठी पोशाख करण्यापेक्षा नक्कीच वेगळे असते. पण सर्व वेशभूषा योग्यप्रकारे केल्यास, त्यातून त्या व्यक्तीचे नैसर्गिक व्यक्तिमत्व चमकू शकते. जेव्हा अॅक्सेसरीजचा विषय येतो तेव्हा, एखाद्या व्यक्तीची तिचे व्यक्तिमत्व, वैयक्तिक प्राधान्य आणि सध्याच्या ट्रेंड यानुसार स्टाईल करणे अतिशय रंजक असते. सहजपणे कोणाशीही संवाद साधू शकणाऱ्या आणि दिलखुलास हसणाऱ्या व्यक्तीने इकडे तिकडे आनंदाने फिरताना टसेल इअररिंग्ज किंवा आनंदाने हलका आवाज करणारे झुमके घातले तर ते नैसर्गिक दिसतात. बिझनेस मिटिंगमध्ये असताना सगळ्या बोर्ड रूमचे लक्ष वेधून घेणारा तुमचा आत्मविश्वास आणि तेज फाईन ज्वेलरीमुळे अजूनच वाढते. मोत्याचे स्टड्स, साधे पण लक्षवेधक सोबर ब्रेसलेट्स, भौमितिक पॅटर्न असलेले हलके ऑफिसवेअर दागिने हे प्रसंगानुरूप वापरण्यासाठी काही पर्याय आहेत. पारंपरिक दागिने नेहमीच क्लासी दिसतात. पारंपरिक पोशाख घालून त्यावर साधे पण पारंपरिक दागिने घालणे तुम्हाला शोभून दिसेल. आजच्या मिलेनियल्सना मिनीमॅलीस्टिक पद्धतीने बनवलेले आणि आधीच्या पिढीने या पिढीकडे सोपवलेले शाश्वत जुने दागिने आवडतात. कलात्मक दृष्टी असलेल्या व्यक्तीला कशातूनही प्रोत्साहन मिळते, आकाशाच्या रंगापासून ते आधुनिक कलेच्या रंगांपर्यंत, कोणतीही गोष्ट कलात्मक मनासाठी एक प्रेरणा स्रोत असू शकते. ते त्यांच्या दागिन्याच्या स्टायलिंगमधूनसुद्धा दाखवता येते. पारंपरिक अँटीक दागिन्यांपासून ते आधुनिक फॅन्सी दागिन्यांपर्यंत, मोठ्या पेंडंटपासून ते स्टेटमेंट पिसेसपर्यंत ते रोज घालण्याच्या सध्या हलक्या दागिन्यांपर्यंत; चमकणाऱ्या ठसठशीत हिऱ्यांच्या दागिन्यांपासून ते साध्या मोत्याच्या सरापर्यंत कलात्मक व्यक्तीला यातील कोणतेही दागिने खुलून दिसतात आणि त्यातूनसुद्धा त्यांचे व्यक्तिमत्व, त्यांचा पसर्नल टच लक्षात येतो. विवाह सोहळा असो किंवा पार्टी, कोणत्याही ठिकाणी गेल्यावर सर्वांचे लक्ष वेधून घेऊ शकणाऱ्या अतिशय आत्मविश्वास असलेल्या स्त्रिया स्टेटमेंट पिसेस घालतात. या उलट, अंतर्मुख व्यक्ती सर्वांत आकर्षक पण नजरेत येणार नाही अशाप्रकारे शांत सौंदर्य प्रतिबिंबित करेल अशा पद्धतीने कधीकधी लहरी वाटेल असासुद्धा पोशाख करते. जितक्या प्रकारची व्यक्तिमत्वे असतील तितक्याच प्रकारचे स्टायलिंगचे दागिने आहेत. प्रत्येक व्यक्ती वेगळी असते त्याप्रमाणे प्रत्येक स्टायलिंगसुद्धा वेगळे असते आणि आपापल्यापरीने सुंदर असते.
Publisher: Kalyan Jewellers

ആഭരണ നിർമ്മാണരീതി - നിങ്ങളുടെ വ്യക്തിത്വം ആസൂത്രണം ചെയ്യുന്നതിനുള്ള ഒരു ഉപായം

On
നമ്മുടെ വ്യക്തിത്വമാണ് നമ്മെ മറ്റുള്ളവരിൽ നിന്നു വ്യത്യസ്തരാക്കുന്നതും നമ്മെ നിസ്തുലരാക്കുന്നതും. അത് പുറത്തേക്കു വരുന്നത് നമ്മൾ ചിന്തിക്കുകയും പ്രവർത്തിക്കുകയും സംസാരിക്കുകയും സ്വയം അവതരിപ്പിക്കുകയും ചെയ്യുന്ന രീതിയിലൂടെയാണ്. ഒരാളുടെ വ്യക്തിത്വം അളക്കുന്നതിനുള്ള അങ്ങേയറ്റം എളുപ്പമുള്ളതും ഏറ്റവും പ്രമുഖവുമായ മാർഗ്ഗങ്ങളിൽ ഒന്ന് വസ്ത്രങ്ങളും അതിന് ഏറ്റവും അനുയോജ്യമായ ആഭരണങ്ങളും തിരഞ്ഞെടുക്കുന്നതാണ്. തങ്ങളുടെ അധികാരചിഹ്നങ്ങളെ അടിസ്ഥാനമാക്കി ഒരേ വ്യക്തി തന്നെ വിഭിന്ന സാഹചര്യങ്ങളിൽ വ്യത്യസ്തഭാവനില നൽകിയെന്നു വരാം. ഉദാഹരണത്തിന്, ഒരു വിവാഹത്തിനു വേണ്ടി അണിഞ്ഞൊരുങ്ങുന്നത് തീർച്ചയായും ഒഴിവുകാലത്തിനു വേണ്ടി അല്ലെങ്കിൽ ബിസിനസ് മീറ്റിംഗിനു വേണ്ടി വേഷം ധരിക്കുന്നതിൽ നിന്നു തീർച്ചയായും വ്യത്യസ്തമായിരിക്കും. എന്നാൽ കൃത്യമായി നിർവഹിക്കുന്ന പക്ഷം ആ വ്യക്തിയുടെ സഹജ വ്യക്തിത്വം എല്ലാ വേഷവിധാനങ്ങളിലും തിളങ്ങാൻ കഴിയും. വേഷത്തിന്റെ ഘടകഭാഗങ്ങൾ കൈകാര്യം ചെയ്യുന്ന കാര്യം വരുമ്പോള്‍, ഒരാളുടെ വ്യക്തിത്വം, വ്യക്തിഗത അഭിരുചികൾ, നിലവിലെ പ്രവണത എന്നിവയെ അടിസ്ഥാനമാക്കി ശൈലി രൂപപ്പെടുത്തുന്നത് തികച്ചും രസകരമാണ്. അനായാസം ഒരു സംഭാഷണം തുടങ്ങി വയ്ക്കുകയും ഹൃദ്യമായി ചിരിക്കുകയും ചെയ്യുന്ന പ്രസന്ന പ്രകൃതമുള്ള ഒരു വ്യക്തി തൊങ്ങലുള്ള കമ്മൽ അല്ലെങ്കിൽ ഝുംക അണിയുകയും സന്തോഷത്തോടെ ചുറ്റും ഞെളിഞ്ഞു നടക്കുമ്പോള്‍ അവ സോത്സാഹം കിലുങ്ങുകയും ചെയ്താൽ അത് തികച്ചും സ്വാഭാവികമായി തോന്നിക്കും. ഒരു ബിസിനസ് മീറ്റിംഗിൽ പങ്കെടുക്കുമ്പോള്‍, നേർത്ത ആഭരണങ്ങൾ ഉപയോഗിക്കുന്നതു വഴി നിങ്ങളുടെ പ്രകടമായ ആത്മവിശ്വാസവും മുഴുവൻ ബോർഡ് റൂമിന്റെയും ശ്രദ്ധ പിടിച്ചുപറ്റുന്നതിനുള്ള വ്യക്തിപ്രഭാവവും തെളിച്ചുകാട്ടാൻ കഴിയും. പേൾ മൂക്കുത്തി, ലളിതമെങ്കിലും നയനാകർഷകമായ അനലംകൃതമായ ബ്രേസ്ലെറ്റ്, ശ്രദ്ധപിടിച്ചുപറ്റുന്ന ജ്യാമിതീയ പാറ്റേണുകൾക്കൊപ്പം ഓഫീസിൽ ധരിക്കുന്നതിനു പറ്റിയ ആഭരണങ്ങൾ എന്നിവ ഈ അവസരത്തിന് അനുയോജ്യമായ ചില ഓപ്ഷനുകളാണ്. പരമ്പരാഗതമായ ഒന്ന് എപ്പോഴും ക്ലാസ്സിക് ആണ്. പൊരുത്തമുള്ളതും എന്നാൽ പരന്പരാഗതവുമായ ആഭരണത്തിനൊപ്പം ഗോത്രാനുസരണമായി വേഷം ധരിക്കുന്നത് നിങ്ങളുടെ കാര്യമാണ്. ഇന്നത്തെ പുതിയ സഹസ്രാബ്ധക്കാർ പഴയ തലമുറകളിൽ നിന്ന് കൈമാറിപ്പോന്നതും പരിമിതമായ ഫാഷനിൽ സ്റ്റൈൽ ചെയ്തതുമായ സുസ്ഥിരമായ ധാരാളം പഴയ വിലപിടിച്ച ആഭരണങ്ങൾ സ്വന്തമാക്കാൻ ഇഷ്ടപ്പെടുന്നു. കലാപ്രേമിയായ ഒരു വ്യക്തിക്ക് എന്തിലും ഏതിലും നിന്ന് പ്രേരണ ഉൾക്കൊള്ളാനാകും. ആകാശത്തിന്റെ നിറം മുതൽ നവീന ചിത്രകലയിലെ ചായങ്ങൾ വരെ, സർഗ്ഗാത്മകതയുള്ള ഒരു മനസ്സിനെ സംബന്ധിച്ചിടത്തോളം എന്തും പ്രേരണാ സ്രോതസ്സാകാൻ കഴിയും. ഇത് അവരുടെ ആഭരണ സ്റ്റൈലിംഗിലും പ്രദർശിപ്പിക്കപ്പെടാൻ കഴിയും. പരമ്പരാഗതമായ പഴയ ആഭരണങ്ങൾ മുതൽആധുനിക ഫാൻസി ജ്വല്ലറി വരെ, തടിച്ച പതക്കങ്ങളും മഹത്വം വിളിച്ചോതുന്ന ആഭരണങ്ങളും മുതൽ നിത്യവും ധരിക്കുന്നതിനുള്ള ഭാരം കുറഞ്ഞ ആരണങ്ങൾ വരെ, ഉജ്വലവും ധീരവുമായ വജ്രാഭരണങ്ങൾ മുതൽ പേളുകളുടെ ലളിതമായ ഒരു ചരടു വരെ, കലാബാധമുള്ള ഒരു വ്യക്തിക്ക് ഈ ആഭരണങ്ങളിൽ ഏതും തിളക്കമുള്ളതാക്കാനും അവരുടെ വ്യക്തിത്വവും അവരുടെ വ്യക്തിഗത സ്പർശവും രൂപഭാവത്തിൽ കൊണ്ടുവരാൻ കഴിയും എന്ന കാര്യം ഉറപ്പാണ്. ഒരു വിവാഹമോ പാർട്ടിയോ ആകട്ടെ, തങ്ങൾ കയറിച്ചെല്ലുന്ന ഏത് മുറിയിലുമുള്ളവരുടെ ശ്രദ്ധ മുഴുവനും ആകർഷിക്കാൻ കഴിയുമെന്ന് അങ്ങേയറ്റം ആത്മവിശ്വാസമുള്ള സ്ത്രീകളാണ് മഹത്വം വിളിച്ചോതുന്ന ആഭരണങ്ങൾ ധരിക്കുന്നത്. അതിനു നേരെ വിപരീതമായി, അന്തർമുഖയായ ഒരാൾ ഏറ്റവും മനോഹരവും എന്നാൽ നിഗൂഢവുമായ രീതിയിൽ വേഷം ധരിക്കുംഅത് പ്രതിഫലിപ്പിക്കുന്നത് ഒരു ശാലീന സൗന്ദര്യത്തെ ആയിരിക്കും, ചിലപ്പോൾ അത് വിവിധ സമയങ്ങളിൽ വിവിധരീതിയിൽ പ്രവർത്തിക്കുന്നതായി പോലും തോന്നിയേക്കാം. വ്യക്തിത്വങ്ങളുടെ എണ്ണം പോലെ ആഭരണങ്ങളുടെ സ്റ്റൈലിംഗിനും അനേകം തരങ്ങളുണ്ട്. ഓരോ വ്യക്തിത്വവും നിസ്തുലമായിരിക്കുന്നതുപോലെ, ഓരോ സ്റ്റൈലിംഗും നിസ്തുലമാണ് ഒപ്പം അതിന്റേതായ സ്വന്തം രീതിയിൽ തികച്ചും മനോഹരവും.
Publisher: Kalyan Jewellers

మిల్లీనియల్స్ ప్రాధాన్యత ఏ విధంగా జ్యూయలరీ పోకడల్ని మార్చింది.

On
మిల్లీనియల్స్ ప్రస్తుత తరానికి చెందిన కొత్తగా సంపాదించే వ్యక్తులు. 25-40 సంవత్సరాల ప్రాథమిక వయస్సు సమూహానికి చెందిన వీరు ఆర్థిక వ్యవస్థకు మూలస్తంభం వంటి వారు. గణనీయమైన పరిమాణంతో భారతదేశం యువతరానికి చెందిన జాతి. మిల్లీనియల్ ని నిర్వచించడానికి పలు గుణాలు ఉన్నాయి. నేటి మిల్లీనియల్స్ చైతన్యం మరియు ధోరణిలు వివిధ అంశాలతో ప్రభావితం చెందాయి. కొత్త సంపాదనాపరులుగా, వారు పెట్టుబడులు పెట్టడానికి సాహసిస్తున్నారు. అలాంటి పరిస్థితిలో, ఎటువంటి తరానికైనా బంగారం అత్యంత సురక్షితమైన మరియు అత్యంతగా కోరుకునే ఎంపికల్లో ఒకటి. మిల్లీనియల్స్ కి ఫ్యాషన్ మరియు జ్యూయలరీలో మంచి అభిరుచి కూడా ఉంది, అందువలన వారు తమ స్టైల్ ,ప్రాధాన్యత మరియు పోకడలకు సరిపోయే బంగారాన్ని కొనడం ద్వారా ఒక దెబ్బకు రెండు పిట్టల్ని చంపగలరు. ఇప్పుడు పోకడలో ఉన్న కొన్ని జ్యూయలరీస్ లో ఎన్నో లింక్స్ తో ఉండే గొలుసులు, ముత్యాల జ్యూయలరీ, తేలికైన డైమండ్ జ్యూయలరీ, మీరు అభిమానించే రంగుల్లో డైమండ్ జ్యూయలరీ మొదలైనవి. మిల్లీనియల్ మరొక సాధారణంగా ఉండే గుణం ఏమంటే మినిమలిస్టిక్ స్టైలింగ్. ఇది నేడు చాలామంది యువతలో ఆమోదించబడిన జీవనశైలి. సహజంగానే అదే ప్రాధాన్యత జ్యూయలరీని స్టైలింగ్ చేసేటప్పుడు కూడా వర్తిస్తోంది. వారు పలు జ్యూయలరీ పీసెస్ ని కలిగి ఉండటాన్ని ఇష్టపడుతున్నారు కానీ యాక్ససరింగ్ చేసే సమయంలో మాత్రం మినిమలిస్టిక్ విధానానికి ప్రాధాన్యతనిస్తున్నారు. సాధారణ టస్సెల్ డైమండ్ రింగ్స్, తేలికైన మరియు ఫ్యాన్సీ రోజ్ గోల్డ్ జ్యూయలరీ వంటి బంగారం జ్యూయలరీ పై మినిమలిస్టిక్ జ్యూయలరీ డిజైన్లు , సాధారణ ముత్యాల దుద్దులు, ముత్యాల నెక్లెస్ లు, ఫ్యాన్సీ పెండెంట్ మొదలైన వాటితో తేలికగా ఉండే గొలుసులు మొదలైనవి ఇప్పుడు పోకడగా నిలిచాయి. 'తక్కువే ఎక్కువ' మంత్రంగా ఉచ్ఛరించబడే సున్నితమైన విధానంలో అవి సమ్మిళతమై మరియు జోడించబడ్డాయి. జియోమెట్రిక్ నమూనాలతో జ్యూయలరీస్ ఈ రోజుల్లో మరొక కొత్త పోకడగా ఉన్నాయి. దుద్దుల్లో , డ్రాప్స్ , డైమండ్ ఇయర్ రింగ్స్ లో, పెండెంట్స్ లేదా బ్రాస్ లెట్స్ లో దేనిలోనైనా జియోమెట్రిక్ డిజైన్లు అందరూ కోరుకునే డిజైన్లు. ఎందుకంటే అవి ఎటువంటి దుస్తులకైనా మరియు ఎటువంటి రూపానికైనా అంటే ఏదైనా వ్యాపార సమావేశానికైనా లేదా ఒక సాధారణ రోజులో బయటకు వెళ్లడానికి అనుకూలంగా సరిపోతాయి . ఈ మినిమలిస్ట్ జ్యూయలరీస్ ని ఒక దాని పై మరొకటి ఉంచడం ద్వారా వీటిని స్టైలింగ్ చేయడం ఒక ఆసక్తికరమైన విధానం. జీన్స్ టి-షర్ట్ ధరించే మహిళలు నుండి వ్యాపార సూట్లు ధరించే మహిళలు వరకు, ప్రతీ ఒక్కరు ఈ రూపాన్ని కలిగి ఉన్నారని మీరు గుర్తిస్తారు. ఎంతో కళాత్మకంగా మెడలో సన్నని గొలుసుల వరుస ఆర్భాటంగా కనిపించకపోయినా మెరుపు వలే ఎవరి దృష్టినైనా ఆకర్షిస్తుంది. ఇదే రకమైన స్టైల్ ని బ్రాస్ లెట్స్ మరియు బ్యాంగిల్స్ లో కూడా అనుకరించవచ్చు. పెండ్లి కుమార్తె అలంకరణ విషయంలో అయితే, మిల్లీనియల్ గుణం సుస్థిరతలో అత్యంతగా ప్రకాశిస్తుంది. ఒక తరం నుండి మరొక తరానికి అప్పగించబడిన వింటేజ్ జ్యూయలరీకి జోడించబడిన అందమైన సెంటిమెంట్స్ జత చేయబడి ఉంటాయి. పెండ్లి కుమార్తె ఇయర్ రింగ్స్, బ్రాస్ లెట్స్, బ్యాంగిల్స్, రింగ్స్ లేదా నెక్లెస్ లలో అందమైన రంగులు వేసిన డైమండ్ పీస్ ని ధరించినప్పుడు ఆమె యొక్క ఫ్యాషన్ భావన మరియు వ్యక్తిత్వాలు ప్రస్ఫుటంగా కనిపిస్తాయి. ప్రతీ తరానికి తమ ఫ్యాషన్ మరియు ప్రాధాన్యతలలో తమదైన భావనలో విప్లవం ఉంది. ఇది వారి అలంకరణలు మరియు వారు ధరించే జ్యూయలరీలో ఉత్తమంగా ప్రదర్శించబడుతుంది.
Publisher: Kalyan Jewellers

వేసవి-వసంతం వెడ్డింగ్ జ్యూయలరీ పోకడలు

On
వేసవి వివాహాలు, వసంతం వివాహాలు పాశ్చాత్య దేశాలు, పాశ్చాత్య సంప్రదాయాల్లో అత్యంత ప్రసిద్ధి చెందినా కూడా ఈ పోకడ భారతీయ వివాహాల్లో కూడా వేగంగా ఒక పోకడగా మారుతోంది. పూర్తి సంవత్సరమంతా ఉష్ణమండలానికి చెందిన వాతావరణాన్ని ఆనందించే దక్షిణ భారతదేశానికి వ్యతిరేకంగా చలి కాలంలో చాలా చలిగా, వేసవిలో చాలా వేడిగా ఉండే ఉత్తర భారతదేశంలో ఈ పోకడని ఆహ్వానించారు. ఒక సాధారణ ఉత్తరాది వివాహాల్లో బరాత్, సంగీత్ మొదలైనటువంటి చాలా కార్యక్రమాల్ని బయట నిర్వహిస్తారు. కాబట్టి ఒక శీతాకాలం వివాహం అతిథులు సొగసుగా, హాయిగా దుస్తులు ధరించడంతో నిమగ్నమై ఉండగా, వేసవి లేదా వసంత కాలాల్లోజరిగే వివాహాల్లో వివాహం చేసుకునే వారు తమ స్టైల్ మరియు ఫ్యాషన్ భావాల్ని మరింత ఎక్కువగా ప్రదర్శించవచ్చు. పెండ్లి కుమార్తె అలంకరణలో గొప్ప పోల్కి చోకర్ సెట్, ఆధునికమైన ఝుంకా ఇయర్ రింగ్స్ , మెరిసే చాంద్ బాలి ఇయర్ రింగ్స్ మొదలైన పలు జ్యూయలరీస్ ఎన్నటికీ తమ పోకడని కోల్పోనివి ఉన్నప్పటికీ కూడా, వేసవి/వసంతం కాలంలో జరిగే వివాహాలకు పలు జ్యూయలరీస్ పోకడలో ప్రామాణాన్ని సృష్టించాయి. వేసవి లేదా వసంత కాలంలో జరిగే వివాహాలకు స్టైలింగ్ కోసం పూల నమూనాలు సాధారణంగా ఒక మంచి ఎంపికగా నిలుస్తాయి. ముత్యాలు, డైమండ్స్ లేదా పేస్టల్ రంగుల కుందన్ లేదా పోల్కి సెట్స్ తో జోడించిన పూల డిజైన్లతో ముదురు రంగుల లెహంగాస్ నుండి సాధారణ లేత రంగుల లెహంగాస్ వేసవిలో ప్రకాశవంతమైన, ఆధునికమైన మరియు విశాలంగా కనిపించే మెడని అలంకరించే సెట్లు, పెండ్లి కుమార్తెకు స్టైలింగ్ ఎంపికలు కోకొల్లలు. వేసవి లేదా వసంత కాలంలో జరిగే వివాహాలకు సొగసుదనం కలిగించే కొన్ని అదనపు జ్యూయలరీస్ లలో డ్యూయల్ ఫింగర్ రింగ్స్, లేత లేదా పూల డిజైన్లు, కళాత్మకమైన బ్రాస్ లెట్స్, పూల నమూనాలు భాగంగా ఉన్నాయి. వివాహానికి హాజరైన అతిథులు కోసం మరొక అందమైన ఎంపిక లేత మరియు విశాలమైన రోజ్ గోల్డ్ జ్యూయలరీతో అలంకరణ చేయడం. వివాహాలు రెండు కుటుంబాల్ని కలిపే ప్రేమ సంబరాలు. కుటుంబ వారసత్వపు ఆస్థులు అలాంటి సంబరాల్లో ఒక ముఖ్యమైన భాగంగా ఉంటాయి. తరతరాలకు చెందిన బంగారం లేదా డైమండ్ జ్యూయలరీ గొప్ప ఉద్వేగభరితమైన విలువని కలిగి ఉంటుంది. అంతే కాదు, అలాంటి జ్యూయలరీస్ ఎంతో అరుదుగా ఉండటం వలన అన్ని తరాల్లో ఆధునికంగా కనిపిస్తాయి. అలాంటి మెరిసే ఉద్వేగభరితమైన విలువగల జ్యూయలరీ లేకుండా ఏదైనా వివాహ రూపం అసంపూర్ణంగా కనిపిస్తుంది. చివరిగా వివాహ రూపాన్ని స్టైల్ చేయడంలో వ్యక్తిగత ప్రాధాన్యతే ప్రధానం. పెండ్లి కుమార్తె, పెండ్లి కుమారుడు , పూర్తి వివాహ పార్టీ అందంగా కనిపించడానికి మాత్రమే కాకుండా తమ సొంత ఆనందానికి కూడా అలంకరించుకుంటారు. ఈ బాక్స్ ని చూసే ఏ రూపమైనా ఎల్లప్పుడూ అందంగా, ఆధునికంగా ఉంటుంది.
Publisher: Kalyan Jewellers

गर्मी और वसंत में शादियों की ज्वेलरी के ट्रेंड

On
वैसे तो पश्चिमी देशों और पश्चिमी रिवाज़ों में वसंत और गर्मी के मौसम में शादी करना पसंद किया जाता है, भारत में भी लोग इस मौसम में शादियां करना अब पसंद करने लगे हैं। उत्तर भारत में खास तौर पर इस मौसम में शादियों का आयोजन पसंद किया जाता है क्योंकि सर्दियों में तापमान काफी कम और गर्मियों में काफी अधिक हो जाता है। इसके विपरीत भारत के दक्षिणी हिस्सों में पूरा वर्ष गर्म और उमस से भरा रहता है। उत्तर भारतीय शादियों में आमतौर पर खुले में काफी कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं जैसे कि बारात, संगीत, आदि। तो सर्दियों की शादी में मेहमान गर्म और आरामदायक महसूस करने के लिए ज़्यादा कपड़े पहनते हैं जबकि गर्मी या वसंत में आयोजित शादियों में वे थोड़ा ज़्यादा स्टाइल और फ़ैशन दिखा सकते हैं। वैसे तो दुल्हन के साज-सामान में ऐसी अनेक ज्वेलरी होती हैं जिनका रिवाज़ कभी खत्म नहीं होता है, जैसे कि भव्य पोल्की चोकर सेट, कानों के लंबे झुमके, बड़ी और शानदार चाँदबाली बालियाँ आदि, फिर भी बहुत सारी ज्वेलरी गर्मियों / वसंत की शादियों पर अलग ही छाप छोड़ जाती हैं। गर्मियों या वसंत में जब स्टाइल की बात हो तो फूलों के पैटर्न अच्छी पसंद माने जाते हैं। मोतियों, हीरे या हल्के रंग के कुंदन या पोल्की सेट के साथ फूलों के डिज़ाइन वाले चमकदार लहंगों से लेकर बड़े, चमकदार और भव्य गले के हार के साथ पहने जाने वाले हल्के रंग के लहंगों तक, दुल्हन को सजाने के अनगिनत विकल्प मौजूद होते हैं। गर्मी या वसंत की शादी में चार-चाँद लगाने वाली कुछ अतिरिक्त प्रकार की ज्वेलरी में दो अंगुलियों में पहनी जाने वाली अंगूठियाँ, पेस्टल या फूलों के डिज़ाइन वाले कलात्मक ब्रेसलेट, फूलों के पैटर्न शामिल हैं। शादी के मेहमानों के लिए एक अन्य सुंदर विकल्प है हल्की और पहनने में आसान रोज़ गोल्ड ज्वेलरी। शादियां प्यार का एक ऐसा त्योहार होता है जिसमें दो परिवार एक हो जाते हैं। इस प्रकार के त्योहारों में परिवार की विरासत एक अहम भूमिका निभाती है। पीढ़ी दर पीढ़ी आगे सौंपी गई हीरे या सोने की ज्वेलरी बहुत भावनात्मक मूल्य रखती है। इतना ही नहीं, इस प्रकार की ज्वेलरी का डिज़ाइन इतना दुर्लभ होता है कि उन्हें हर पीढ़ी पसंद करती है। कोई भी शादी भावनात्मक मूल्यों से परिपूर्ण इस प्रकार की ज्वेलरी के बिना अधूरी होती है। अंत में जब बात शादी में फ़ैशन करने की हो तो सारा कुछ व्यक्ति की पसंद-नापसंद पर निर्भर करता है। दुल्हन, दूल्हा और शादी में शामिल होने वाले सभी बाराती न केवल सुंदर दिखने के लिए सजते-सँवरते हैं बल्कि खुद को भी खुश करते हैं। जो इन सभी चीज़ों को पूरा करेगा वो ही फ़ैशनेबल और सुंदर कहलाएगा।
Publisher: Kalyan Jewellers

Can we help you?